भारतीय नौसेना का नवनिर्मित मुख्यालय: नौसेना भवन का दिल्ली छावनी में उद्घाटन

“The New Sites” Team के द्वारा प्रकाशित Daily current affairs in Hindi, Today current affairs Hindi 2024, Current affairs for upsc, State PSC, SSC, Banking, Railways in Hindi सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयुक्त है। इसके अलावे दिन भर के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स हमारे साइट पर जाके पढ़ सकते है। इस पोस्ट में भारतीय नौसेना का नवनिर्मित मुख्यालय “नौसेना भवन” का दिल्ली छावनी में उद्घाटन हुआ इससे सम्बंधित इम्पोर्टेन्ट MCQs जो कि Govt. exam में Direct पूछे जायेंगे के बारे में पढेंगे। 

1. दिल्ली छावनी में रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह द्वारा ‘नौसेना मुख्यालय’ भवन के उद्घाटन का क्या महत्व है?

  1. यह दिल्ली में भारतीय नौसेना के लिए पहले समर्पित मुख्यालय की स्थापना का प्रतीक है।
  2. यह नौसैनिक वास्तुकला में एक नए युग की शुरुआत का प्रतीक है।
  3. यह भारतीय नौसेना की वर्षगांठ मनाना है।
  4. यह भारतीय सशस्त्र बलों की एकता का प्रतीक है।

सही उत्तर: A) यह दिल्ली में भारतीय नौसेना के लिए पहले समर्पित मुख्यालय की स्थापना का प्रतीक है।

स्पष्टीकरण: दिल्ली छावनी में ‘नौसेना मुख्यालय’ भवन का उद्घाटन दिल्ली में भारतीय नौसेना के लिए पहले समर्पित मुख्यालय की स्थापना का प्रतीक है, जो नौसेना के लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है।

2. नौसेना मुख्यालय के निर्माण से पहले नौसेना की आधिकारिक गतिविधियाँ कैसे संचालित की जाती थीं?

  1.  दिल्ली में एक केंद्रीकृत मुख्यालय के माध्यम से।
  2. 13 विभिन्न स्थानों में अनेक स्थानों के माध्यम से।
  3. सेना की अन्य शाखाओं के सहयोग से।
  4. विभिन्न नौसैनिक अड्डों में अस्थायी संरचनाओं के माध्यम से।

सही उत्तर: B) 13 विभिन्न स्थानों में कई स्थानों के माध्यम से।

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय के निर्माण से पहले, नौसेना की आधिकारिक गतिविधियाँ 13 अलग-अलग स्थानों से संचालित की जाती थीं, जिससे नौसेना मुख्यालय जैसे एकीकृत मुख्यालय की आवश्यकता महसूस होती थी।

3. दक्षता और स्थिरता बढ़ाने के लिए नौसेना मुख्यालय भवन में कौन सी निर्माण तकनीकों को एकीकृत किया गया था?

  1. पारंपरिक ईंट और गारा।
  2.  उन्नत निर्माण तकनीकों के साथ प्रबलित कंक्रीट।
  3. इमारती लकड़ी का ढांचा।
  4. एडोब निर्माण।

सही उत्तर: B) उन्नत निर्माण तकनीकों के साथ प्रबलित कंक्रीट।

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय की इमारत ने दक्षता और स्थिरता को अनुकूलित करने के लिए अपनी चार मंजिलों में उन्नत निर्माण तकनीकों के साथ प्रबलित कंक्रीट का उपयोग किया।

4. नौसेना मुख्यालय भवन में ऊर्जा और जल संरक्षण की दिशा में क्या उपाय किये गये?

  1. सौर ऊर्जा उत्पादन प्रणालियों का उपयोग।
  2. वर्षा जल संचयन प्रणालियों का एकीकरण।
  3. पवन टर्बाइनों का उपयोग।
  4. भूतापीय तापन प्रणालियों को अपनाना।

सही उत्तर: A) सौर ऊर्जा उत्पादन प्रणालियों का उपयोग।

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय भवन में ऊर्जा और जल संरक्षण की दिशा में प्रयासों में सौर ऊर्जा उत्पादन प्रणालियों का एकीकरण शामिल है, जिसमें स्थिरता और पर्यावरणीय जागरूकता पर जोर दिया गया है।

5. नौसेना मुख्यालय भवन पर्यावरणीय स्थिरता में कैसे योगदान देता है?

  1. पारंपरिक निर्माण सामग्री को शामिल करके।
  2. प्राकृतिक जल स्रोतों से इसकी निकटता के कारण।
  3. कृत्रिम प्रकाश व्यवस्था के व्यापक उपयोग के माध्यम से।
  4. हरित भवन प्रथाओं के साथ इसके एकीकरण के माध्यम से।

सही उत्तर: D) हरित भवन प्रथाओं के साथ इसके एकीकरण के माध्यम से।

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय की इमारत ऊर्जा दक्षता और पर्यावरण संरक्षण पर जोर देते हुए हरित भवन प्रथाओं के साथ अपने एकीकरण के माध्यम से पर्यावरणीय स्थिरता में योगदान देती है।

6. नौसेना मुख्यालय भवन में कौन सी सुरक्षा सुविधाएँ मौजूद हैं?

  1. स्वचालित निगरानी ड्रोन।
  2. चेहरे की पहचान करने वाले कैमरे।
  3. लेजर ट्रिपवायर।
  4. मोशन-सक्रिय फ्लडलाइट।

सही उत्तर: B) चेहरे की पहचान करने वाले कैमरे।

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय भवन में सुरक्षा सुविधाओं में चेहरे की पहचान करने वाले कैमरे और अन्य आधुनिक तकनीकें शामिल हैं, जो सुरक्षा और निगरानी क्षमताओं को बढ़ाती हैं।

7. ग्रीन रेटिंग प्रणाली के तहत नौसेना मुख्यालय भवन ने कौन सी रेटिंग हासिल की?

  1. ग्रीन रेटिंग II
  2. ग्रीन रेटिंग III.
  3. ग्रीन रेटिंग IV.
  4. ग्रीन रेटिंग V.

सही उत्तर: C) ग्रीन रेटिंग IV

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय भवन ने ग्रीन रेटिंग प्रणाली के तहत ग्रीन रेटिंग IV हासिल की, जो टिकाऊ प्रथाओं और परिचालन दक्षता के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

8. नौसेना मुख्यालय की इमारत सूचना प्रौद्योगिकी आवश्यकताओं को संभालने के लिए किस प्रकार सुसज्जित है?

  1. पारंपरिक नेटवर्किंग प्रणालियों के उपयोग के माध्यम से।
  2. विकेंद्रीकृत संचार नेटवर्क के माध्यम से।
  3. उन्नत सूचना प्रौद्योगिकी बुनियादी ढांचे के माध्यम से।
  4. कागज-आधारित दस्तावेज़ीकरण पर निर्भरता के माध्यम से।

सही उत्तर: C) उन्नत सूचना प्रौद्योगिकी बुनियादी ढांचे के माध्यम से।

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय भवन उन्नत सूचना प्रौद्योगिकी बुनियादी ढांचे से सुसज्जित है, जो भारतीय नौसेना की सूचना प्रौद्योगिकी आवश्यकताओं को प्रभावी ढंग से पूरा करता है।

9. नौसेना मुख्यालय भवन की स्थापना भारतीय नौसेना के लिए क्या दर्शाती है?

  1. विकेंद्रीकृत संचालन की ओर बदलाव।
  2. ऐतिहासिक संरक्षण के प्रति प्रतिबद्धता।
  3. केंद्रीकृत और तकनीकी रूप से उन्नत मुख्यालय की ओर एक कदम।
  4.  पारंपरिक नौसैनिक रणनीतियों पर ध्यान।

सही उत्तर: C) केंद्रीकृत और तकनीकी रूप से उन्नत मुख्यालय की ओर एक कदम।

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय भवन की स्थापना भारतीय नौसेना के लिए केंद्रीकृत और तकनीकी रूप से उन्नत मुख्यालय की दिशा में एक कदम का प्रतीक है, जो इसकी परिचालन क्षमताओं को बढ़ाती है।

10. नौसेना मुख्यालय भवन का निर्माण क्या व्यापक संदेश देता है?

  1. वैश्विक शांति स्थापना प्रयासों के प्रति प्रतिबद्धता।
  2. वास्तुशिल्प नवाचार के प्रति समर्पण।
  3. समुद्री उत्कृष्टता और राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति भारत की प्रतिबद्धता की पुनः पुष्टि।
  4. अंतर्राष्ट्रीय कूटनीति पर ध्यान।

सही उत्तर: C) समुद्री उत्कृष्टता और राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति भारत की प्रतिबद्धता की पुनः पुष्टि।

स्पष्टीकरण: नौसेना मुख्यालय भवन का निर्माण समुद्री उत्कृष्टता और राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति भारत की प्रतिबद्धता की पुष्टि करता है, जो नौसेना की ताकत और तैयारियों के प्रति उसके समर्पण को दर्शाता है।

(Source: AIR News, PIB News, DD News, BBC News, Bhaskar News ,Wikipedia, GoForEarning)

ये भी पढ़ें: संचार मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव ने ग्रामीण डाक सेवकों के लिए वित्तीय उन्नयन योजना का शुभारंभ किया

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर