पीएम विश्वकर्मा(PM Vishwakarma) योजना क्या है? किसको मिलेगा इसका फायदा, रजिस्ट्रेशन और आवेदन, जाने डिटेल्स।

पीएम विश्वकर्मा (PM Vishwakarma) योजना की परिचय

  • ‘पीएम विश्वकर्मा’ (PM Vishwakarma) योजना की शरुआत औपचारिक रूप से विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर की गई।
  • 17 सितम्बर को पीएम मोदी (PM Modi) अपने जन्मदिन पर पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों के लिए पीएम विश्वकर्मा योजना की तोहफा दी।
  • केंद्र सरकार ने वित्तीय वर्ष 2023-24 के बजट सत्र में विश्वकर्मा योजना की घोषणा की थी।
  • साल 2023 में स्वतंत्रता दिवस पर भी पीएम मोदी द्वारा पीएम विश्वकर्मा योजना की ऐलान किया गया था।
  • योजना में सरकार द्वारा 13000 करोड़ रुपये खर्च की जाएगी ।
  • यह योजना पारम्परिक शिल्पकारों और कारीगरों के लिए 2023 -24 से 2027 -28 तक पांच वित्तीय वर्षो के लिए होगी।

विश्वकर्मा योजना क्या है?

  • इस योजना का उद्देश्य कारीगरों को आर्थिक सहायता देना ।
  • कारीगरों के पारंपतिक कौशल के अभ्यास को बढ़ावा देना।
  • कारीगरों तक प्रोडक्ट्स और सर्विस को सही से पहुंचाने में मदद मिलेगी।
  • इस योजना के लाभार्थी को 15,000 रुपये का टूलकिट दिया जायेगा ।
  • लाभार्थि को स्किल ट्रेनिंग के साथ 500 रुपये प्रति दिन के स्टाइपेंड भी मिलेगा।

ओडिशा के मुख्यमंत्री ने “मुख्यमंत्री संपूर्ण पुष्टि योजना (MSPY)” की शुरआत की। जाने डिटेल्स।

पीएम विश्वकर्मा (PM Vishwakarma) योजना का रजिस्ट्रेशन और आवेदन

  • पीएम विश्वकर्मा (PM Vishwakarma) योजना के लिए 13,000 करोड़ रुपये की  आवंटन।
  • केंद्र सरकार द्वारा पूरी तरह से फंडिंग किया जाएगा।
  • इस योजना में परिवार का केवल एक सदस्य ही आवेदन दे सकता है।
  • कारीगरों को आत्मनिर्भर करने के लिए सरकार 3 लाख रुपये तक का लोन दो किस्त में देगी।
  • लाभार्थी को सरकार द्वारा सर्टिफिकेट और आईडी भी दी जाएगी ।
  • योजना के अंतर्गत बायोमेट्रिक आधारित पीएम विश्वकर्मा पोर्टल (PM Vishwakarma portal) का इस्तेमाल करके कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) के माध्यम से विश्वकर्माओं का फ्री रजिस्ट्रेशन किया जाएगा।

Pension and OBC for Transgenders: झारखंड सरकार के कैबिनेट ने ट्रांसजेंडर समुदायों को दिया गोल्डन तोहफा। जाने डिटेल्स

पीएम विश्वकर्मा (PM Vishwakarma) योजना की लाभार्थी

पीएम विश्वकर्मा (PM Vishwakarma) योजना की लाभार्थी
लोहार

ताला बनाने वाले

कारपेंटर

नाव बनाने वाले

अस्त्र बनाने वाले

हथौड़ा और टूलकिट निर्माता

पारंपरिक गुड़िया और खिलौने बनाने वाले

नाई

मालाकार

धोभी

दर्जा

मछली का जाल बनाने वाले सुनार

कुम्हार

मूर्तिकार

मोची,

राज मिस्त्री

डलिया

चटाई और झाड़ू बनाने वाले

  • इस योजना के तहत 18 पारंपरिक व्यवसायों को शामिल किया गया है।
  • भारत में ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के कारीगरों और शिल्पकारों को सहायता प्रदान करेगी।

पीएम विश्वकर्मा (PM Vishwakarma) योजना के फायदे

  • लाभार्थी को पीएम विश्वकर्मा सर्टिफिकेट और आईडी कार्ड
  • बेसिक और एडवांस ट्रेनिंग
  • स्किल अपग्रेडेशन
  • 15,000 रुपये का टूलकिट प्रोत्साहन
  • 5%की रियायती ब्याज दर पर एक लाख रुपये (पहली किस्त) और 2 लाख रुपये (दूसरी किस्त) तक कोलेटरल फ्री क्रेडिट सपोर्ट
  • डिजिटल ट्रांजेक्शन के लिए इन्सेंटिंव
  • मार्केटिंग सपोर्ट के माध्यम से मान्यता
  • योजना में स्किल ट्रेनिंग के साथ 500 रुपये प्रतिदिन स्टाइपेंड ।

यदि आप अधिक लेख पढ़ना चाहते हैं, तो कृपया यहां क्लिक करें।

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Free & easy link building. Link. Ioc tajniki produkcji kontraktowej.