राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने कैंसर उपचार के लिए भारत की पहली घरेलू जीन थेरेपी का शुभारंभ किया

इस पोस्ट में राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने भारत में कैंसर के इलाज के लिए पहली घरेलू जीन थेरेपी का शुभारंभ IIT Bombay में किया के इम्पोर्टेन्ट MCQs के बारे में बताएंगे जो UPSC , State PSC, SSC, Banking, Railways तथा अन्य सभी Govt. Exam प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयुक्त है।

संक्षेप में:

  • राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु ने भारत में कैंसर के इलाज के लिए पहली घरेलू जीन थेरेपी का शुभारंभ IIT Bombay में किया
  • इस अवसर पर राष्ट्रपति ने बताया कि इस जीन थेरेपी का नाम “सीएआर-टी सेल थेरेपी” है, जो कैंसर इम्यूनोथेरेपी उपचार है
  • यह उपचार पूरी दुनिया को नई आशा देता है क्योंकि यह सस्ता और सरल है।
  • राष्ट्रपति ने विश्वास जताया कि यह थेरेपी अनगिनत मरीजों को नवजीवन देने में सफल होगी।
  • इस उपचार को टाटा मेमोरियल अस्पताल और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान बॉम्बे ने मिलकर विकसित किया है।
  • राष्ट्रपति ने इस उपचार के विकास में शिक्षा-उद्योग साझेदारी का सराहनीय उदाहरण माना।
  • आईआईटी बॉम्बे ने प्रौद्योगिकी शिक्षा के मॉडल के रूप में विख्यात होने के साथ-साथ, इस उपचार के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।
  • राष्ट्रपति को खुशी हुई कि भारत में भागीदार इम्यूनोएसीटी के सहयोग से पहली सीएआर-टी सेल थेरेपी उद्योग की शुरुआत हुई है।

MCQs:

1. हाल ही में भारत की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने 4 अप्रैल, 2024 को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे में किसका उद्घाटन किया?

  1. पहला कैंसर इम्यूनोथेरेपी सेंटर
  2. भारत की पहली घरेलू जीन थेरेपी
  3. कैंसर के टीकों के लिए एक अनुसंधान सुविधा
  4. राष्ट्रीय कैंसर संस्थान

सही उत्तर: B) भारत की पहली घरेलू जीन थेरेपी

स्पष्टीकरण: राष्ट्रपति ने 4 अप्रैल, 2024 को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे में कैंसर के इलाज के लिए भारत की पहली घरेलू जीन थेरेपी का उद्घाटन किया।

2. कैंसर के इलाज के लिए राष्ट्रपति द्वारा शुरू की गई थेरेपी का नाम क्या है?

  1. CRISPR-Cas9 थेरेपी
  2. सीएआर-टी सेल थेरेपी
  3. आरएनए हस्तक्षेप थेरेपी
  4. सीटीए (कैंसर थेरेपी एडवांसमेंट) प्रोटोकॉल

सही उत्तर: B) सीएआर-टी सेल थेरेपी

स्पष्टीकरण: लॉन्च की गई थेरेपी को “सीएआर-टी सेल थेरेपी” कहा जाता है, जिसका मतलब चिमेरिक एंटीजन रिसेप्टर टी-सेल थेरेपी है।

3. भारत की पहली CAR-T सेल थेरेपी विकसित करने में किसने सहयोग किया?

  1. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद
  2. टाटा मेमोरियल अस्पताल
  3. विश्व स्वास्थ्य संगठन
  4. संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम

सही उत्तर: B) टाटा मेमोरियल अस्पताल

स्पष्टीकरण: टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल ने थेरेपी विकसित करने के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे के साथ सहयोग किया।

4. CAR-T सेल थेरेपी का मुख्य उद्देश्य क्या उपचार करना है?

  1. मधुमेह
  2. एचआईवी/एड्स
  3. कैंसर
  4. अल्जाइमर रोग

सही उत्तर: C) कैंसर

स्पष्टीकरण: सीएआर-टी सेल थेरेपी का मुख्य उद्देश्य कैंसर का इलाज करना है, विशेष रूप से कैंसर कोशिकाओं के खिलाफ प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को बढ़ावा देना।

5. राष्ट्रपति के अनुसार, भारत में लॉन्च की गई CAR-T सेल थेरेपी के बारे में क्या महत्वपूर्ण है?

  1.  यह दुनिया भर में सबसे महंगी थेरेपी है।
  2. यह केवल विकसित देशों में उपलब्ध है।
  3. यह विश्व स्तर पर सबसे सस्ती CAR-T सेल थेरेपी है।
  4. यह विशेष रूप से भारतीय नागरिकों के लिए है।

सही उत्तर: C) यह विश्व स्तर पर सबसे सस्ती सीएआर-टी सेल थेरेपी है।

स्पष्टीकरण: राष्ट्रपति ने इस बात पर प्रकाश डाला कि भारत में लॉन्च की गई सीएआर-टी सेल थेरेपी विश्व स्तर पर सबसे सस्ती है, जो दुनिया भर के रोगियों के लिए आशा प्रदान करती है।

6. सीएआर-टी सेल थेरेपी के विकास में आईआईटी बॉम्बे ने क्या भूमिका निभाई?

  1. क्लिनिकल परीक्षण आयोजित किया गया
  2. निर्मित थेरेपी दवाएं
  3. समन्वित अनुसंधान प्रयास
  4. तकनीकी शिक्षा प्रदान की गई

सही उत्तर: C) समन्वित अनुसंधान प्रयास

स्पष्टीकरण: आईआईटी बॉम्बे ने सीएआर-टी सेल थेरेपी के विकास के लिए अनुसंधान प्रयासों के समन्वय में भूमिका निभाई।

(Source: AIR News, PIB News, DD News, BBC News, Bhaskar News ,Wikipedia, GoForEarning)

ये भी पढ़ें: Myth vs Reality Register: निर्वाचन आयोग ने ‘मिथक बनाम वास्तविकता रजिस्टर’ की शुरुआत की

ये भी पढ़ें:भारत सरकार ने ई-वाहन नीति 2024 को स्वीकृति दी

ये भी पढ़ें:Joint Military Exercise Dharma Guardian: राजस्थान में भारत-जापान संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘धर्म गार्जियन’ का शुभारंभ

 

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Backlinks are generated by incorporating clickable keywords into articles, known as contextual links. Link. Polityka prywatności produkcja suplementów.