क्या अमरीकी फेडरल रिजर्व बदल देगा भारतीय बाजार का सिस्टम? सेंसेक्स और निफ्टी का नया राजनीतिक संघर्ष

बॉल्ड मूव: सेंसेक्स ने एक दशमलव तीन-चार प्रतिशत की वृद्धि के साथ सत्तासूची को सत्रह हजार पांच सौ चौदह अंकों पर पहुंचाया, जबकि निफ्टी ने एक दशमलव दो-तीन प्रतिशत की तेजी के साथ इक्कीस हजार एक सौ तेरासी पर समाप्त हुआ।

मुंबई, 14 दिसम्बर 2023: आज अमरीकी फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में कोई और बढ़ोतरी की संकेत नहीं की, जिससे भारतीय शेयर बाजारों में उत्साह देखने को मिला। सेंसेक्स और निफ्टी ने दर्ज की रिकॉर्ड ऊंचाई को छूने का उत्साह दिखाया।

अमरीकी फेडरल रिजर्व की बैठक के बाद शेयर बाजारों में आए सकारात्मक परिणामों ने बाजार में उत्साह को मजबूत किया है। एक बाजार विश्लेषक के अनुसार, फेड ने ब्याज दर में कोई बढ़ोतरी नहीं करने का संकेत देने से बाजार में उत्साह बना रखा है और यह वृद्धि की उम्मीद कर रहा है।

उत्साहपूर्ण बाजार में बढ़ते उम्मीदों के साथ रिकॉर्ड ऊंचाई पर सेंसेक्स

सत्तारूप बाजार में रूचि बनी रही और सबसे बड़े घरेलू बाजार सूचकांक में एक प्रतिशत से अधिक की उछाल दर्ज की गई। बॉम्बे शेयर बाजार का सेंसेक्स एक दशमलव तीन-चार प्रतिशत की भारी वृद्धि के बाद सत्‍तर हजार पांच सौ चौदह पर बंद हुआ।

निफ्टी ने भी दर्ज की तेजी, आम निवेशकों के लिए खुशखबरी

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी एक दशमलव दो-तीन प्रतिशत की तेजी से दो सौ छप्पन अंको की बढत दर्ज करता है, जिससे यह इक्‍कीस हजार एक सौ तेरासी पर बंद होता है। बाजार में यह वृद्धि आने वाले दिनों में और भी बढ़ सकती है, और निवेशकों को और भी उत्साहित कर सकती है।

विश्व बाजारों में हलचल और अमरीकी फेड के निर्णय का प्रभाव

बाजार विशेषज्ञ बता रहे हैं कि अमरीकी फेडरल रिजर्व ने अपने ब्याज दरों में कोई बढ़ोतरी नहीं की जाने का संकेत देना बाजार को सुधारता है, क्योंकि व्यापक रूप से बढ़ती हुई ब्याज दरें बाजार के लिए एक चुनौती हो सकती हैं।

सूचना और प्रौद्योगिकी क्षेत्र में सबसे बड़ी बदलती हुई दुनिया में, निवेशकों को ध्यान देने लायक क्षेत्र में निवेश करने के लिए उत्सुकता है। इस संदर्भ में, बाजार में इस वक्त हुए उत्साह को देखते हुए विशेषज्ञों ने यह सुझाव दिया है कि निवेशकों को धीरे-धीरे बढ़ती बाजार गतिविधियों का फायदा उठाने का समय हो सकता है।

निवेशकों के लिए सुझाव: सतर्क रहें और विवेकपूर्ण निवेश करें

इस अच्छे उत्साही बाजार में निवेश करने के लिए उत्सुक निवेशकों को लेकर, एक बाजार विशेषज्ञ ने कहा, “यह एक ऐसा समय है जब निवेशकों को बाजार की गतिविधियों को ध्यान से निगरानी में रखना चाहिए। वे धीरे-धीरे अपने निवेशों को बढ़ा सकते हैं और उच्च स्तर की निगरानी में रह सकते हैं ताकि वे बाजार की स्थिति के हिसाब से सही निर्णय ले सकें।”

इस बढ़ते हुए उत्साह के बावजूद, कुछ विशेषज्ञ चेतावनी दे रहे हैं कि बाजार में आने वाले दिनों में वोलेटिलिटी बनी रह सकती है और निवेशकों को धीरज बनाए रखना चाहिए। वे यह भी बता रहे हैं कि अमरीकी फेड की बैठक के बाद बाजार में उत्साह देखने के बावजूद, अन्य अंतरराष्ट्रीय और घरेलू कारणों से बाजार में उत्साह बना रहना चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

अनुसंधान और विश्लेषण के अनुसार, बाजार में उत्साह बना रहने पर विभिन्न सेक्टरों में निवेश करने के लिए निवेशकों को ध्यान देने की आवश्यकता है। विभिन्न उद्योगों में निवेश करने के लिए निवेशकों को बाजार में उत्साह की समझ रखने के लिए एक व्यापक संदर्भ प्रदान करने के लिए सेक्टर के एक्सपर्ट्स के सुझावों का अध्ययन करना चाहिए।

आखिरकार, बाजार में उत्साह के बावजूद, निवेशकों को धीरज बनाए रखने का सुझाव दिया जा रहा है ताकि वे बाजार की दिशा में सही निर्णय ले सकें और निवेश के संदर्भ में सावधानी बरत सकें। इस समय में, निवेशकों को विभिन्न सेक्टरों में निवेश के अवसरों की तलाश करने के लिए अच्छा मौका हो सकता है, और धीरे-धीरे निवेश करते समय वे सही रास्ते पर चल सकते हैं।

Also read: Vikas bharat 2047 Abhiyan

 

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Since hong kong residents prefer fresh food, the domestic helper may have to visit the market more than once a day.