Goldie Brar: केंद्र सरकार ने गैंगस्टर गोल्डी बराड को आतंकवादी घोषित किया, गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्त

Goldie Brar: केंद्र सरकार ने आज गैंगस्टर गोल्डी बराड को गैरकानूनी गतिविधियों निवारण अधिनियम-UAPA के अंतर्गत आतंकवादी घोषित कर दिया है। इसमें उनके भयानक हत्याकांडों से लेकर राष्ट्रविरोधी गतिविधियों तक कई मामलों का समावेश है।

Goldie Brar: कनाडा का आतंकी जनरल

Goldie Brar, जो फिलहाल कनाडा के ब्रम्पटन में रह रहा है, बब्बर खालसा इंटरनेशनल से जुड़ा हुआ है। गृह मंत्रालय के अनुसार, गोल्डी ने अनेक हत्याओं में शामिल रहकर राष्ट्रीय नेताओं को धमकी भरे फोन कॉल्स के जरिए फिरौती की मांग की है।

गोल्डी के खिलाफ गंभीर आरोप

मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, “Goldie Brar ने आतंकी उच्च ग्रेड के हथियार, गोला-बारूद, और विस्फोटक की तस्करी में भी अपने हाथों से हिस्सा लिया है। इसके अलावा, उन्होंने पंजाब में शांति, साम्प्रदायिक सद्भाव और कानून व्यवस्था में बाधा डालने के लिए तोड़-फोड़, राष्ट्रविरोधी गतिविधियां, आंतकी कार्रवाईयां, और लक्षित हत्याओं को भी अंजाम दिया है।”

Goldie Brar: केंद्र सरकार ने गैंगस्टर गोल्डी बराड को आतंकवादी घोषित किया
Goldie Brar: केंद्र सरकार ने गैंगस्टर गोल्डी बराड को आतंकवादी घोषित किया

ये भी पढ़ें: First X-ray Polarimeter Satellite: नये साल में इसरो ने रचा इतिहास,पहले एक्स-रे पोलारीमीटर उपग्रह का सफल प्रक्षेपण

गोल्डी का कनाडा से जुड़ा रिश्ता

Goldie Brar, जो कनाडा में बसे हुए हैं, उनका संबंध बब्बर खालसा इंटरनेशनल से है, जो एक आतंकी संगठन के रूप में जाना जाता है। इससे जुड़े तथ्यों के अनुसार, गोल्डी ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर भारत में विभिन्न स्थानों पर आतंकी कार्रवाईयों का ठीक-ठाक संचालन किया है।

राष्ट्रीय नेताओं को धमकी भरे फोन कॉल्स

मंत्रालय के अनुसार, गोल्डी ने राष्ट्रीय नेताओं को धमकी भरे फोन कॉल्स करके फिरौती की मांग की है। उनकी गतिविधियों के चलते देश में हड़कंप मचा हुआ है और सरकार ने तत्काल कड़ी कदमबद्धता का निर्णय लिया है।

ये भी पढ़ें: Tehreek-e-Hurriyat: गृहमंत्री अमित शाह की नई कदम से हरीक-ए-हुर्रियत को लगा बैन

गोल्डी की विभिन्न अपराधिक गतिविधाएं

Goldie Brar और उसके सहयोगियों ने पंजाब में शांति, साम्प्रदायिक सद्भाव और कानून व्यवस्था में बाधा डालने के लिए तोड़-फोड़, राष्ट्रविरोधी गतिविधियां, आंतकी कार्रवाईयां, और लक्षित हत्याओं को भी अंजाम दिया है। इससे सामाजिक सुरक्षा में बड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ा है।

सुरक्षा बलों को चेतावनी

सरकार ने सभी सुरक्षा बलों को Goldie Brar और उसके सहयोगियों के खिलाफ सतर्क रहने की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा, “यह समय है कि हम सभी मिलकर देश की सुरक्षा में योगदान दें और इस आतंकी साजिश को नकारात्मक रूप से सामना करें।”

न्यायिक कदमों की संभावना

Goldie Brar के खिलाफ उच्च न्यायिक कदमों की संभावना है, ताकि उनकी गैरकानूनी गतिविधियों का निर्णय त्वरित हो सके। सरकार ने उनके खिलाफ सख्ती से कदम उठाने का ऐलान किया है और न्यायिक प्रक्रिया के माध्यम से इस मामले को समाप्त करने का प्रयास करेगी।

सामाजिक रूप से जिम्मेदार सुरक्षा

Goldie Brar के मामले में सामाजिक रूप से जिम्मेदार सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सरकार ने सभी आवश्यक कदम उठाए हैं। लोगों से अपील है कि वे भी सतर्क रहें और सुरक्षा बलों के साथ मिलकर अपने आसपास की सुरक्षा में योगदान दें।

इस निवेदन के साथ समाप्त करते हैं कि सरकार ने Goldie Brar को आतंकवादी घोषित करने का निर्णय लिया है और इसमें उनके द्वारा किए जाने वाले गैरकानूनी गतिविधियों का संपूर्ण जाँच- पड़ताल कर रही है। देशवासियों से आग्रह है कि वे सरकार के साथ मिलकर इस आतंकी से मुकाबला करें और देश की सुरक्षा में अपना सहयोग दें।

ये भी पढ़ें: Fit India: प्रधानमंत्री ने फिट इंडिया के सपने को साकार करने के लिए स्वास्थ्य-नवाचार स्टार्टअप को बढ़ावा दिया

FAQs:

प्रश्न: गोल्डी बराड को कौन-कौन सी गतिविधियों में लिप्त किया गया है?

उत्तर: गोल्डी बराड को गैरकानूनी गतिविधियों में, जैसे कि राष्ट्रविरोधी गतिविधियां, आतंकी कार्रवाईयां, और लक्षित हत्याओं में लिप्त पाया गया है।

प्रश्न: गोल्डी बराड का रिश्ता किस संगठन से है?

उत्तर: गोल्डी बराड का संबंध बब्बर खालसा इंटरनेशनल से है, जो एक आतंकी संगठन के रूप में जाना जाता है।

प्रश्न: गोल्डी बराड के खिलाफ सरकार ने कौन-कौन सी आरोप लगाए हैं?

उत्तर: सरकार ने गोल्डी बराड के खिलाफ उनके भयानक हत्याकांडों, राष्ट्रविरोधी गतिविधियों, और राष्ट्रीय नेताओं को धमकी भरे फोन कॉल्स करके फिरौती की मांग करने के आरोप लगाए हैं।

प्रश्न: सरकार ने कौन-कौन से कदम उठाए हैं गोल्डी बराड के खिलाफ?

उत्तर: सरकार ने सभी सुरक्षा बलों को गोल्डी बराड और उसके सहयोगियों के खिलाफ सतर्क रहने और देश की सुरक्षा में योगदान देने की चेतावनी दी है। वह भी न्यायिक कदमों की संभावना को बढ़ावा देने का ऐलान किया है।

प्रश्न: क्या लोगों से सुरक्षा बलों के साथ मिलकर योगदान करने की अपील की गई है?

उत्तर: हाँ, सरकार ने लोगों से यह आग्रह किया है कि वे सुरक्षा बलों के साथ मिलकर अपने आसपास की सुरक्षा में योगदान करें और देश को इस आतंकी से मुकाबला करने में मदद करें।

 

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Foreign domestic helper.