International Purple Celebration 2024: अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव 2024, समावेशिता और सशक्तिकरण के साथ गोवा में एक विश्व स्तरीय उत्सव का आज शुभारंभ

International Purple Celebration 2024: आज से गोवा में आयोजित हो रहे एक बहुप्रतीक्षित अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव: 2024 का आज शुभारंभ हो रहा है, जो 13 जनवरी तक समावेशिता और सशक्तिकरण के सूची में शामिल है। इस आयोजन को गोवा सरकार और भारत सरकार के सहयोग से रचा गया है, और यह विभिन्न क्षेत्रों के दिव्यांवगजनों को एक मंच पर लाने का एक महत्वपूर्ण अवसर प्रदान कर रहा है।

उत्सव का आगाज़

इस उत्सव का भव्य उद्घाटन आज शाम 4:30 बजे डी.बी. मैदान, कैम्पल, पणजी, गोवा में होगा। इस अद्वितीय समारोह में गोवा के मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत और केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री श्री रामदास अठावले मुख्य अतिथि होंगे। इसमें गोवा सरकार के स्वास्थ्य मंत्री श्री विश्वजीत राणे, केंद्रीय पर्यटन, पत्तन और जलमार्ग राज्य मंत्री श्री श्रीपाद नाइक सहित कई अन्य गणमान्यी व्यक्तियाँ भी शामिल होंगी।

ये भी पढ़ें: Diplomatic storm: कूटनीतिक तूफान, मालदीव सरकार ने भारतीय पीएम मोदी की आलोचना करने वाले मंत्रियों को किया निलंबित

आयोजन का संगठन

यह अद्भुत उत्सव गोवा सरकार के समाज कल्याण निदेशालय के सहयोग से और भारत सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांकगजन सशक्तिकरण विभाग के समर्थन से आयोजित किया जा रहा है। इस उत्सव में गोवा के मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत मुख्य अतिथि होंगे, जबकि केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री श्री रामदास अठावले सम्मानित अतिथि के रूप में होंगे। साथ ही, इस उत्सव में गोवा सरकार के स्वास्थ्य मंत्री श्री विश्वजीत राणे, केंद्रीय पर्यटन, पत्तन और जलमार्ग राज्य मंत्री श्री श्रीपाद नाइक सहित कई अन्य गणमान्यी व्यक्तियों की उपस्थिति होगी।

अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव 2024 का उद्देश्य

इस अद्वितीय पर्पल उत्सव का मुख्य उद्देश्य संगीत, नृत्य, और मनोरंजन के माध्यम से दिव्यांवगजनों की प्रतिभा को विश्वभर में प्रमोट करना है। इस समारोह के दौरान, ‘धूमल’ नामक पर्पल का प्रस्तुतिकरण होगा, जिसमें गोवा के विभिन्न क्षेत्रों के दिव्यांवगजन और भारतीय संगीत उद्योग के सम्मानित रचनाकारों द्वारा भी अपनी प्रस्तुतियां दी जाएंगी। यह एक सामराज्यपूर्ण साझेदारी होगी, जो समावेशिता और एकता का संकेत होगा।

ये भी पढ़ें: Hajj Agreement 2024: भारत और सऊदी अरब ने जद्दाह में द्विपक्षीय हज समझौते पर हस्ताक्षर किए

सामाजिक समर्थन

गोवा सरकार के समाज कल्याण निदेशालय और भारत सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के समर्थन से हो रहे इस उत्सव में दिव्यांवगजन सशक्तिकरण विभाग के साथ-साथ गोवा सरकार की विभिन्न पहलों का शुभारंभ होगा। यहां से शुरू होने वाली विभिन्न पहलों से लाभान्वित होने की उम्मीद है, जो विभिन्न सामाजिक मुद्दों में समृद्धि का सामर्थ्य प्रदान करेगी।

अंतर्राष्ट्रीय प्रतिष्ठा

इस अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव में 8,000 से अधिक प्रतिनिधियों का संख्या समावेशी भविष्य की दिशा में एक सकारात्मक संकेत है। यह उत्सव विश्व स्तर पर विविधता, समावेशिता और सशक्तिकरण की ऊँचाइयों को छूने का वादा करता है और सभी वर्गों के लोगों को एक साथ आने का अवसर प्रदान करता है।

ये भी पढ़ें: Prasadam Food Street: उज्जैन में ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट का उद्घाटन, देश की पहली स्वस्थ और स्वच्छ खाद्य देने वाली स्ट्रीट

समापन और आगे की योजनाएं

इस अद्वितीय यात्रा के समापन के साथ, हम एक सशक्त और समृद्धि से भरा भविष्य की दिशा में कदम बढ़ाएंगे। इस उत्सव के साथ हम आपको अनूठे और रोचक कल्चरल अनुभव की तरफ आमंत्रित करते हैं और विभिन्न समाजिक मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रेरित करते हैं।

इस अद्भुत अनुभव के लिए और ताजगी से भरा रहने के लिए हमसे जुड़े रहें, और इस अद्वितीय समारोह की सभी अपडेट्स के लिए हमारे साथ बने रहें।

सामान्य प्रश्न (FAQs) अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव 2024 के बारे में

  1. अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव कब और कहां हो रहा है?

    उत्तर: अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव 2024, 8 जनवरी से 13 जनवरी के बीच गोवा में आयोजित हो रहा है।

  2. अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव का उद्देश्य क्या है?

    उत्तर: इस उत्सव का मुख्य उद्देश्य संगीत, नृत्य, और मनोरंजन के माध्यम से दिव्यांवगजनों की प्रतिभा को प्रमोट करना और समावेशिता और सशक्तिकरण की ऊँचाइयों को छूने का वादा करना है।

  3. अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव में कौन-कौन से प्रमुख व्यक्तियों की उपस्थिति होगी?

    उत्तर: गोवा के मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत और केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री श्री रामदास अठावले मुख्य अतिथि होंगे, साथ ही कई अन्य गणमान्यी व्यक्तियाँ भी उपस्थित होंगी।

  4. कौन-कौन सी गतिविधियाँ होंगी अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव में?

    उत्तर: उत्सव के दौरान संगीत, नृत्य, और मनोरंजन में आकर्षक प्रदर्शन होगा, जिसमें विभिन्न क्षेत्रों के दिव्यांवगजनों के साथ-साथ भारतीय संगीत उद्योग के सम्मानित रचनाकारों की प्रस्तुतियां भी होंगी।

  5. अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव में कितने प्रतिनिधियाँ शामिल होंगे?

    उत्तर: इस अंतर्राष्ट्रीय पर्पल उत्सव में 8,000 से अधिक प्रतिनिधियों की उम्मीद है, जो विविधता, समावेशिता और सशक्तिकरण का समर्थन करने के लिए एक साथ आएंगे।

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Control the number of backlinks per website on a daily basis. Link. Ioc – nowy partner produkcyjny dla twojej marki.