Prasadam Food Street: उज्जैन में ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट का उद्घाटन, देश की पहली स्वस्थ और स्वच्छ खाद्य देने वाली स्ट्रीट

Prasadam Food Street: केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने आज मध्य प्रदेश के उज्जैन में ‘प्रसादम’ नामक देश की पहली स्वस्थ और स्वच्छ फूड स्ट्रीट का उद्घाटन किया। इस मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मनोज यादव, उप मुख्यमंत्री श्री राजेंद्र शुक्ला, राज्य के सार्वजनिक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री श्री नरेंद्र शिवाजी पटेल, और सांसद श्री अनिल फिरोजिया भी मौजूद थे।

प्रसादम’ – स्वस्थ और स्वच्छ भोजन की स्वप्न स्थापना

‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट का मुख्य उद्देश्य है देशभर के नागरिकों को शुद्ध और सुरक्षित स्थानीय और पारंपरिक भोजन का अद्वितीय संगम प्रदान करना है। इसका लक्ष्य नागरिकों और पर्यटकों को सुरक्षित और स्वस्थ खान-पान की आदतों से भी जोड़ना है। मंत्री डॉ. मांडविया ने कहा, “विकसित भारत के दृष्टिकोण को प्राप्त करने के लिए, यह भी आवश्यक है कि देश के नागरिक स्वस्थ रहें।”

ये भी पढ़ें: One Nation One Election: ऐतिहासिक कदम, पूर्व राष्ट्रपति ने ‘एक राष्ट्र एक चुनाव’ के लिए क्रांतिकारी अभियान का नेतृत्व किया – लोगों की आवाज़ें चाहिए

स्वस्थ और स्वच्छ फूड स्ट्रीट की रूपरेखा

फूड स्ट्रीट में 939 वर्ग मीटर के क्षेत्र में 19 दुकानें स्थापित की गई हैं, जिसमें विभिन्न खाद्य विक्रेताएं शामिल हैं। यहां बच्चों के लिए खेल क्षेत्र, पीने के पानी की सुविधा, सीसीटीवी निगरानी, पार्किंग, सार्वजनिक सुविधाएं और बैठने की जगह भी उपलब्ध हैं। ‘प्रसादम’ महाकालेश्वर मंदिर के लगभग 1 से 1.5 लाख भक्तों के लिए सांस्कृतिक भोजन विकल्प प्रदान करता है, जिससे आने वाले यात्री स्वस्थ और स्वच्छ भोजन का आनंद उठा सकते हैं।

स्वास्थ्य मंत्री की उपस्थिति में अन्य सुविधाएं

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने हेल्दी एंड हाइजीनिक फूड स्ट्रीट पहल के लिए आधिकारिक वेबसाइट जारी की और स्वस्थ और स्वच्छ फूड स्ट्रीट के लिए मानक संचालन प्रक्रिया की रूपरेखा वाले एक ब्रोशर का भी अनावरण किया। मंत्री और मुख्यमंत्री ने संयुक्त रूप से 17 सिविल कार्यों का भी उद्घाटन किया, जिनमें दो सार्वजनिक स्वास्थ्य इकाई ब्लॉक, 54 मुख्यमंत्री संजीवनी स्वास्थ्य क्लिनिक और तीन एकीकृत सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रयोगशालाएं और 30 बिस्तरों वाला आपातकालीन कोविड प्रतिक्रिया वार्ड शामिल है।

ये भी पढ़ें: Solar Satellite Aditya L-1: ISRO ने रचा एक और इतिहास, भारत का पहला सौर उपग्रह, आदित्य एल-1, अंतिम कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित

मानव सेवा के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण कदम

Prasadam Food Street Inaugurated in Ujjain
Prasadam Food Street Inaugurated in Ujjain

मंत्री और मुख्यमंत्री ने संयुक्त रूप से मनहित ऐप भी लॉन्च किया, जो मानसिक स्वास्थ्य की जांच की सुविधा प्रदान करने वाली एक पहल है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत विभिन्न परियोजनाओं का डिजिटल भूमि पूजन एवं लोकार्पण भी किया गया है।

खाद्य सुरक्षा और स्वच्छता के प्रति समर्पण

मंत्री ने खाद्य सुरक्षा और स्वच्छता पर स्ट्रीट फूड विक्रेताओं के प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण सहित फूड स्ट्रीट के पास बुनियादी ढांचे और सुविधा के विकास की सराहना की। ‘ईट राइट मिलेट्स’ मेलों में उन्होंने विभिन्न स्टॉलों पर गए और प्रशिक्षित खाद्य संचालकों के साथ बातचीत की।

मुख्यमंत्री की सराहना और भविष्य की दिशा

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मनोज यादव ने भी फूड स्ट्रीट की पहल की सराहना की और कहा, “फूड स्ट्रीट सुनिश्चित करेगी कि सभी को स्वस्थ और स्वच्छ भोजन उपलब्ध होगा।” उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दृष्टिकोण की सराहना करते हुए कहा कि यह भारतीय समाज में स्वस्थ जीवनशैली को बढ़ावा देगा।

ये भी पढ़ें: Chinese occupation in Bhutan: भूटान में चीनी कब्जे का आंखों देखा गया सबूत, 5 चौंकाने वाले तस्वीरें

मिलावटों के खिलाफ जागरूकता अभियान

खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण ने “द डार्ट बुक” के माध्यम से घर पर आम खाद्य मिलावटों की जांच करने के लिए सरल परीक्षण शुरू किया है। इसके अतिरिक्त, दूरदराज के इलाकों तक पहुंचने और प्रशिक्षण और जागरूकता गतिविधियों का संचालन करने के लिए फूड सेफ्टी ऑन व्हील्स (एफएसडब्ल्यू) नामक एक मोबाइल खाद्य परीक्षण वैन भी लॉन्च की गई है। इस मोबाइल खाद्य परीक्षण वैन का उद्देश्य दूरदराज क्षेत्रों में भी खाद्य सुरक्षा और स्वच्छता की जांच करना और जागरूकता फैलाना है।

आर्थिक विकास और सामुदायिक जुड़ाव की दिशा में ‘प्रसादम’

‘प्रसादम’ का उद्घाटन उज्जैन में पर्यटन को बढ़ाने के साथ-साथ इसकी पाक परंपराओं को संरक्षित करने और समृद्धि स्थापित करने का भी एक माध्यम है। यह स्थान न केवल आर्थिक विकास को प्रोत्साहित करेगा, बल्कि समुदायों के बीच सामूहिक समर्थन भी बढ़ाएगा।

सांसदों, अधिकारियों, और गणमान्य व्यक्तियों का समर्थन

इस कार्यक्रम में विभिन्न सांसदों सदस्यों, वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों के साथ-साथ प्रतिष्ठित गणमान्य व्यक्तियों ने भी सक्रिय भूमिका निभाई। इन सभी समर्थन देने वालों का योगदान इस पहल को और भी मजबूती और सफलता की दिशा में बढ़ाएगा।

समाप्तित: स्वस्थ और स्वच्छ फूड स्ट्रीट का उद्घाटन

‘प्रसादम’ का उद्घाटन सफलता से सम्पन्न हुआ, जो देशवासियों को स्वस्थ और स्वच्छ भोजन का अनुभव करने का नया तरीका प्रदान करता है। इस महत्वपूर्ण कदम से न केवल खाद्य सुरक्षा की दिशा में बढ़ावा होगा, बल्कि यह स्वस्थ जीवनशैली की प्रोत्साहन और समृद्धि के प्रति हमारी सामूहिक जिम्मेदारी का भी प्रतीक होगा।

ये भी पढ़ें: World Test Championship 2023-25: भारत ने दक्षिण अफ्रीका को हराकर बनाया इतिहास, विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप 2023-25 में शीर्ष पर पहुंचा

सामान्य प्रश्न (FAQs) ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट के बारे में

प्रश्न: उज्जैन में ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट का उद्घाटन कब हुआ था?

उत्तर: उज्जैन में ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट का उद्घाटन मध्य प्रदेश के उपाधीक्षक डॉ. मनसुख मांडविया द्वारा किया गया था।

प्रश्न: ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट क्या है?

उत्तर: ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट देश की पहली स्वस्थ और स्वच्छ फूड स्ट्रीट है, जो मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित है। इसका उद्घाटन केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने किया।

प्रश्न: ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट में कितनी दुकानें हैं और कैसी सुविधाएं हैं?

उत्तर: ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट में 939 वर्ग मीटर क्षेत्र में 19 दुकानें हैं, जिसमें बच्चों के लिए खेल क्षेत्र, पीने के पानी की सुविधा, सीसीटीवी निगरानी, पार्किंग, सार्वजनिक सुविधाएं और बैठने की जगह शामिल हैं।

प्रश्न: ‘प्रसादम’ फूड स्ट्रीट का मुख्य उद्देश्य क्या है?

उत्तर: ‘प्रसादम’ का मुख्य उद्देश्य देशभर के नागरिकों को शुद्ध और सुरक्षित स्थानीय और पारंपरिक भोजन का अद्वितीय संगम प्रदान करना है।

प्रश्न: कौन-कौन सी सुविधाएं ‘प्रसादम’ महाकालेश्वर मंदिर के लिए प्रदान करता है?

उत्तर: ‘प्रसादम’ महाकालेश्वर मंदिर के लगभग 1 से 1.5 लाख भक्तों के लिए सांस्कृतिक भोजन विकल्प प्रदान करता है।

प्रश्न: कौन-कौन से उपाय केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने स्वस्थ और स्वच्छ फूड स्ट्रीट के लिए शुरू किए हैं?

उत्तर: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने हेल्दी एंड हाइजीनिक फूड स्ट्रीट पहल के लिए आधिकारिक वेबसाइट जारी की और मानक संचालन प्रक्रिया की रूपरेखा वाले एक ब्रोशर का भी अनावरण किया है।

प्रश्न: कौन-कौन से श्रीष्ठ व्यक्तियों ने प्रसादम के उद्घाटन में भाग लिया?

उत्तर: प्रसादम के उद्घाटन में केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मनोज यादव, उप मुख्यमंत्री श्री राजेंद्र शुक्ला, राज्य के सार्वजनिक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री श्री नरेंद्र शिवाजी पटेल और सांसद श्री अनिल फिरोजिया ने भी शामिल हुए।

प्रश्न: मनहित ऐप का उद्घाटन किसने किया और इसका क्या उद्देश्य है?

उत्तर: मंत्री और मुख्यमंत्री ने संयुक्त रूप से मनहित ऐप का उद्घाटन किया है, जो मानसिक स्वास्थ्य की जांच की सुविधा प्रदान करने का उद्देश्य है।

प्रश्न: ‘द डार्ट बुक’ क्या है और इसका क्या उपयोग है?

उत्तर: ‘द डार्ट बुक’ भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) द्वारा घर पर आम खाद्य मिलावटों की जांच करने के लिए जारी की गई है। इससे उपभोक्ताओं को सशक्त बनाने के लिए सरल परीक्षण उपलब्ध हैं।

प्रश्न: ‘फूड सेफ्टी ऑन व्हील्स’ क्या है और इसका क्या उद्देश्य है?

उत्तर: ‘फूड सेफ्टी ऑन व्हील्स’ एक मोबाइल खाद्य परीक्षण वैन है, जो दूरदराज क्षेत्रों में भी खाद्य सुरक्षा और स्वच्छता की जांच करने के लिए लॉन्च की गई है। इससे जागरूकता फैलाने और खाद्य सुरक्षा की जांच में मदद करने का उद्देश्य है।

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Advantages of overseas domestic helper.