Qatar court: कतर के शीर्ष न्यायालय ने भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारियों को जेल की सजा के खिलाफ अपील के लिए साठ दिन का समय दिया

 Qatar court: कतर के शीर्ष न्यायालय ने आठ पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारियों को जेल की सजा के खिलाफ अपील करने के लिए साठ दिन का समय दिया है, जैसा कि AIR ने ट्वीट किया है। इसमें विदेश मंत्रालय ने बताया है कि इन अधिकारियों के परिवार और कानूनी टीम संपर्क में हैं और मामले में आगे की कार्रवाई का फैसला कानूनी टीम को करना है।

विदेश मंत्रालय का बयान: अपील के लिए 60 दिन का समय दिया गया

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जयसवाल ने बताया कि कतर के शीर्ष न्यायालय ने इस मामले में अपील दायर करने के लिए आठ पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारियों को 60 दिन का समय दिया है। उन्होंने कहा कि विदेश मंत्रालय इन भारतीय नागरिकों के समर्थन में जुटा हुआ है और उनके परिवार के साथ संपर्क में रहेगा।

ये भी पढ़ें: Inspiration Program: शिक्षा मंत्रालय ने शुरू किया ‘प्रेरणा: अनुभव पर आधारित शिक्षा कार्यक्रम’

मौत की सजा कम करके जेल की सजा: पिछले महीने का फैसला

प्रवक्ता जयसवाल ने बताया कि पिछले महीने, कतर की अपील अदालत ने भारतीय नागरिकों को दी गई मौत की सजा को कम करके उन्हें अलग-अलग अवधि के लिए जेल की सजा सुनाई थी। इस फैसले के बाद, भारतीय नौसेना के आठ पूर्व अधिकारियों ने अपील करने का निर्णय लिया है, जिसके लिए वे अब शीर्ष न्यायालय में जाएंगे।

भारत का जवाब: नौवहन सुरक्षा पर पूरी तरह प्रतिबद्ध

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने यह भी बताया है कि भारत लाल सागर में उभरती स्थिति के बारे में नजर रख रहा है और भारतीय नौसेना के जहाज इलाके में गश्त कर रहे हैं। जयसवाल ने नौवहन सुरक्षा पर भारत की पूरी तरह प्रतिबद्धता को बढ़ावा देते हुए कहा कि भारत इस मामले को गंभीरता से लेकर रहेगा।

ये भी पढ़ें: North Eastern Festival 2024: उत्तर पूर्वी महोत्सव 2024,13 से 17 जनवरी 2024 तक दिल्ली में आयोजित

सारांश: भारतीय नौसेना के अधिकारियों को मिला 60 दिन का समय, विदेश मंत्रालय ने दिखाई पूरी तरह की प्रतिबद्धता

एक ओर, जहाजों के सुरक्षा में भारतीय प्रतिबद्धता और दूसरी ओर, भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारियों को मिला 60 दिन का समय – इस मामले में नई दिल्ली ने दिखाई अपनी मजबूत दृष्टिकोण। इस अपील की सुनवाई से पहले, विदेश मंत्रालय की टीम ने समर्थन और सहारा देने का आभास करवाया है, जिससे इस मामले में सुरक्षित और न्यायिक समाधान की उम्मीद है।

ये भी पढ़ें: Mega North India Startup Expo: उपराष्ट्रपति करेंगे उद्घाटन, उत्तर भारत में उभरते स्टार्टअप रुझान, जानिए कौन-कौन से शहर हैं शामिल

सामान्य प्रश्न (FAQs) कतर के शीर्ष न्यायालय ने भारतीय नौसेना के अधिकारियों को मिला 60 दिन का समय के बारे में

प्रश्न: क्या कतर के शीर्ष न्यायालय ने इस मामले में आठ पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारियों को जेल की सजा के खिलाफ अपील करने के लिए कितने दिन का समय दिया है?

उत्तर: हाँ, कतर के शीर्ष न्यायालय ने इस मामले में आठ पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारियों को जेल की सजा के खिलाफ अपील करने के लिए साठ दिन का समय दिया है।

प्रश्न: कैसे विदेश मंत्रालय ने इस स्थिति के संबंध में कदम उठाया है?

उत्तर: विदेश मंत्रालय ने इस स्थिति में अपील दायर करने वाले भारतीय नौसेना अधिकारियों के परिवार और कानूनी टीम के संपर्क में रहने का साथ दिया है, और उनकी सहायता के लिए पूरी तरह से समर्थन जाहिर किया है।

प्रश्न: क्या पिछले महीने कतर के अदालत का फैसला भारतीय नागरिकों के लिए सकारात्मक था?

उत्तर: हाँ, पिछले महीने, कतर की अपील अदालत ने भारतीय नागरिकों को दी गई मौत की सजा को कम करके उन्हें अलग-अलग अवधि के लिए जेल की सजा सुनाई थी।

प्रश्न: भारतीय नौसेना का कैसा प्रतिबद्धता है इस समय?

उत्तर: विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जयसवाल ने बताया कि भारत लाल सागर में उभरती स्थिति को नजर रख रहा है और भारतीय नौसेना के जहाज इलाके में गश्त कर रहे हैं। उन्होंने नौवहन सुरक्षा के प्रति भारत की पूरी तरह से प्रतिबद्धता को जताया है।

 

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर