The New Sites

श्री अर्जुन मुंडा करेंगे झारखंड में आदि महोत्सव का उद्घाटन।

“आदि महोत्सव” का उद्घाटन 

  • श्री अर्जुन मुंडा झारखंड के जमशेदपुर में आदि महोत्सव का उद्घाटन करेंगे।
  • आदि महोत्सव में जनजातीय कला, हस्तशिल्प, प्राकृतिक उत्पाद, और स्वादिष्ट व्यंजनों के साथ देश भर के जनजातीय समुदायों द्वारा उगाए गए मिलेट्स भी शामिल होंगे।
  • आदि महोत्सव जनजातीय कार्य मंत्रालय की एक वार्षिक पहल है जो जनजातीय उद्यमिता, शिल्प, संस्कृति, व्यंजन, वाणिज्य, और पारंपरिक कला की भावना का उत्सव मनाती है।
  • 7 से 16 अक्टूबर 2023 तक, आदि महोत्सव के तहत भारतीय जनजातीय सहकारी विपणन विकास संघ (ट्राइफेड) द्वारा मेगा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।
  • इस महोत्सव में जनजातीय कला, हस्तशिल्प, प्राकृतिक उत्पाद, और स्वादिष्ट व्यंजन शामिल होंगे, जो जनजातीय समृद्धि और विविधता को प्रकट करेंगे।
  • आदि महोत्सव विशेष रूप से कमजोर जनजातीय समूहों (पीवीटीजी) और वन धन केंद्र लाभार्थियों सहित लगभग 336 जनजातीय कारीगरों और कलाकारों की मेजबानी करेगा।
  • संगीत, कला, चित्रकला, और व्यंजनों के अलावा, इस महोत्सव में देश भर के जनजातीय समुदायों द्वारा उगाए गए मिलेट्स का भी प्रदर्शन किया जाएगा।
  • आदि महोत्सव जनजातीय कार्य मंत्रालय के अध्यक्ष श्री अर्जुन मुंडा के नेतृत्व में मनाया जा रहा है, और इसमें भारतीय जनजातीय सहकारी विपणन विकास संघ (ट्राइफेड) की महत्वपूर्ण भूमिका है।
  • 2023 को ‘अंतर्राष्ट्रीय पोषक अनाज वर्ष’ के रूप में घोषित किया गया है, इसलिए आदि महोत्सव में देश भर के जनजातीय समुदायों द्वारा उगाए गए मिलेट्स का भी प्रदर्शन किया जाएगा।

झारखंड राज्य के बारे में छोटे नोट्स

स्थापना

    • झारखंड 15 नवम्बर 2000 को बिहार से अलग होकर एक अलग राज्य के रूप में गठित हुआ।

स्थिति

    • यह भारत का एक राज्य है और उसकी राजधानी रांची है।

जलवायु

    • झारखंड का जलवायु मुख्य रूप से मध्य-भारतीय उपमहाद्वीपीय जलवायु का हिस्सा है, जिसमें गर्मियों में गर्म और शीतकालीन में ठंडा मौसम होता है।

भौगोलिक स्थिति

    • झारखंड छोटे पर्वतीय श्रृंगलों, घाटियों, और वनस्पति से भरपूर है, जिसे ‘भूखंड दिशा’ के नाम से भी जाना जाता है।

बौद्धिक और सांस्कृतिक धरोहर

    • झारखंड का क्षेत्र प्राचीन सांस्कृतिक और बौद्धिक धरोहर के दृष्टि से महत्वपूर्ण है, और यहां पर पुरातात्विक स्थल भी हैं।

भूगर्भविद्या

    • झारखंड का भूगर्भविद्या से संबंधित भी महत्वपूर्ण काम होता है, और यहां के खदानों में खनिज संपदा का विशेष महत्व है।

अर्थव्यवस्था

    • झारखंड की अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार खनिज संसाधनों पर है, जैसे कि अग्निशम कोयला, बॉक्साइट, और अन्य खनिज।

भाषा

    • हिंदी और कोलो भाषा यहां की प्रमुख भाषाएँ हैं, जो लोगों के बोल-चाल का माध्यम हैं।

खेल

    • झारखंड में क्रिकेट, हॉकी, और खुदाई के खेल महत्वपूर्ण हैं, और यहां के खिलाड़ी अन्तरराष्ट्रीय प्रमुख प्रतियोगिताओं में भी उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हैं।

प्राकृतिक सौंदर्य

    • झारखंड का प्राकृतिक सौंदर्य वन्यजीव, घाटियों, झीलों, और प्राकृतिक प्राकृतिक सौंदर्य स्थलों के रूप में प्रसिद्ध है।

(Sources : AIR News, PIB News, DD News)

Read more…..

6 अक्टूबर 2023 का Hindi current affairs.

केंद्रीय कृषि मंत्री ने किया मुरैना हार्टिकल्चर कॉलेज का शिलान्यास।

आरईसी(REC) द्वारा लॉन्च किया गयासुगम आरईसी‘ (Sugam REC) मोबाइल एप्लिकेशन।

एएसआई की योजना: इतिहास की खोज से इतिहास के निर्माण तक

गोवा, 37वें राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करेगा।

गोवा, 37वें राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करेगा।

श्रीअन्न किसान उत्पादक संगठन प्रदर्शनी का आयोजन सीएपीएफ (CAPF) कैंप में।

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
fb-share-icon20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Follow instructions on the use of the washing machine and spin dryer.