Current affairs in Hindi: भारतीय वायु सेना का नया ध्वज

भारतीय वायु सेना का नया ध्वज का अनावरण

  • 8 अक्टूबर, 2023, को भारतीय वायुसेना इतिहास में महत्वपूर्ण दिन के रूप में दर्ज किया जाएगा, जब वायुसेना प्रमुख नया वायुसेना ध्वज अनावरण करेंगे।

पूर्व का ध्वज

  • पूर्व में वायुसेना का ध्वज आरआईएफ(RIF) ध्वज था, जिसमें ऊपरी बाएं कैंटन में यूनियन जैक और फ्लाई साइड पर आरआईएएफ(RIAF) राउंडेल (लाल, सफेद, और नीला) शामिल था।

नया ध्वज

  • अब वायुसेना के नए ध्वज में एक नया आईएएफ (Indian Air Force, IAF) क्रेस्ट शामिल किया गया है, जो एनसाइन के ऊपरी दाएं कोने में फ्लाई साइड की ओर है।

क्रेस्ट के अंदर

  • क्रेस्ट के शीर्ष पर राष्ट्रीय प्रतीक अशोक सिंह है और नीचे देवनागरी में “सत्यमेव जयते” शब्द हैं। क्रेस्ट के नीचे हिमालयी ईगल है, जिसके पंख फैले हुए हैं, जो वायुसेना के युद्ध के गुणों को दर्शाता है। हल्के नीले रंग का एक वलय हिमालयी ईगल को घेरे हुए है, जिस पर लिखा है “भारतीय वायु सेना”। भारतीय वायुसेना का आदर्श वाक्य “नभः स्पृशं दीप्तम्” हिमालयी ईगल के नीचे देवनागरी के सुनहरे अक्षरों में अंकित है।

महत्वपूर्ण कदम

  • नये ध्वज के साथ, वायुसेना अपने मूल्यों को बेहतर ढंग से प्रकट कर रही है, और एक नये आईएएफ क्रेस्ट के साथ अपने इतिहास को नया मोड़ देने का प्रयास कर रही है।

संक्षेप में भारतीय वायु सेना के बारे में 

स्थापना

  •  भारतीय वायु सेना, 8 अक्टूबर 1932 को ब्रिटिश भारतीय सेना के एक विशेष शाखा के रूप में स्थापित की गई थी।

कार्य

  •  यह सेना भारतीय वायुयानों की सुरक्षा और युद्ध साहसीता की दिशा में कार्य करती है और वायु शक्ति के क्षेत्र में राष्ट्रीय सुरक्षा का सहायक होती है।

संरचना

  •  इसकी मुख्य शाखाएं विमान और हेलीकॉप्टर विभागों में विभाजित हैं और विभिन्न प्रकार के वायुयानों का उपयोग उनके कार्यों में करती हैं।

शक्ति और प्रशासन

  •  वायु सेना का प्रमुख, भारतीय वायु मर्शल, देश की सबसे ऊंची पदस्थान वाली सेना की ताकतों को संचालित करते हैं।

युद्धीय क्षमता

  •  भारतीय वायु सेना विभिन्न प्रकार के युद्धीय और अस्त्र-शास्त्रीय कार्यों में निपुण है, जैसे कि वायुयान संघटन, वायुयान कूद़ परिक्रिया, और आक्रमणीय कार्रवाई।

अद्यतनीकरण

  •  वायु सेना ने अपनी वायुयान और उपकरणों को नवाचारी तकनीक के साथ अद्यतन किया है, जिससे वह अपने कार्यों को और भी प्रभावी और उत्कृष्ट बना सकती है।

विशेष श्रेणियाँ

  • वायु सेना में पायलट, तकनीकी और अन्य विशेषज्ञों की विभिन्न श्रेणियाँ होती हैं जो वायुमार्ग कार्यों को संचालित करती हैं।

साहसीता और गर्व

  •  भारतीय वायु सेना अपनी साहसीता, प्रतिबद्धता, और गर्व के साथ देश की सुरक्षा के लिए काम करती है और उसके लोगों के लिए सुरक्षित वायुयान प्रदान करती है।

(Sources : AIR News, PIB News, DD News)

Read more…..

7 अक्टूबर 2023 का Hindi current affairs. 

मध्यप्रदेश सरकार ने महिलाओं के लिए 35% आरक्षण: सरकारी नौकरियों में एक बड़ी सौगात।

PM मोदी  17600 करोड़ की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन राजस्थान और मध्यप्रदेश में किया।

DPIIT और गति शक्ति विश्वविद्यालय के बीच समझौता, बुनियादी ढांचे को मिलेगा बढ़ावा।

पुतिन ने भारत को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में स्थायी सदस्यता मिलने का समर्थन किया।

सर्बानंद सोनोवाल ने माजुली में आयुर्वेदिक अस्पताल का उद्घाटन किया।

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर