The New Sites

‘पोर्ट ऑफ द फ्यूचर’ सम्मेलन

संक्षेप नोट्स और MCQ परीक्षा के दृष्टि से

आयोजन

  • दिनांक: 05 जुलाई 2024
  • स्थान: इंटरनेशनल सेंटर गोवा, डोना पाउला, उत्तरी गोवा
  • आयोजक: मोरमुगाओ बंदरगाह प्राधिकरण, लाइटहाउस और लाइटशिप महानिदेशालय

सम्मेलन का उद्देश्य

  • मुख्य बंदरगाहों का परिवर्तन: ‘पोर्ट 4.0’ में रूपांतरित करना
  • डिजिटल परिवर्तन: प्रमुख व्यावसायिक प्रक्रियाओं का डिजिटल रूपांतरण
  • सुरक्षा और दक्षता: सुधार और वृद्धि
  • बंदरगाह स्थिरता: बढ़ावा देना
  • प्रौद्योगिकी का लाभ: उन्नत तकनीकों का उपयोग

प्रौद्योगिकी और नवाचार

  • 5जी प्रौद्योगिकी: भारतीय बंदरगाहों में कार्यान्वयन
  • पोत यातायात प्रबंधन: उन्नत प्रणाली और एआई का उपयोग
  • सूचना प्रौद्योगिकी: एआई, ब्लॉकचेन, IoT का अनुप्रयोग
  • वैश्विक बंदरगाह नेटवर्क: 5जी संचार नेटवर्क पर चर्चा

सहभागिता

  • उद्योग विशेषज्ञ
  • शोधकर्ता
  • पेशेवर
  • बंदरगाह प्रशासक और अधिकारी
  • नीति निर्माता: बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्रालय

चर्चा विषय

  • नवीनतम प्रगति: 5जी तकनीक और पोत यातायात प्रबंधन प्रणाली
  • प्रमुख प्रतिस्पर्धात्मकता: सूचना प्रौद्योगिकी अनुप्रयोग

पोर्ट ऑफ फ्यूचरसम्मेलन से सम्बंधित MCQs 

1. मोरमुगाओ पोर्ट अथॉरिटी और लाइटहाउस और लाइटशिप निदेशालय द्वारा आयोजित एक दिवसीय सम्मेलन का मुख्य विषय क्या है?

  1. सतत शिपिंग
  2. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर
  3. शिपिंग में डिजिटल परिवर्तन
  4. वैश्विक बंदरगाह प्रतिस्पर्धात्मकता

सही उत्तर: B) पोर्ट ऑफ द फ्यूचर

स्पष्टीकरण: सम्मेलन ” पोर्ट ऑफ द फ्यूचर ” विषय पर केंद्रित है, जो बंदरगाह संचालन और प्रौद्योगिकियों में भविष्य की प्रगति पर ध्यान केंद्रित करता है।

2. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर सम्मेलन किस तारीख को होने वाला है?

  1. 5 जून, 2024
  2. 5 जुलाई, 2024
  3. 5 अगस्त, 2024
  4. 5 सितंबर, 2024

सही उत्तर: B) 5 जुलाई, 2024

स्पष्टीकरण: सम्मेलन 5 जुलाई, 2024 को निर्धारित है, जैसा कि सामग्री में उल्लेख किया गया है।

3. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर सम्मेलन का एक प्रमुख उद्देश्य क्या है?

  1. वैश्विक व्यापार नीतियों पर चर्चा
  2. प्रमुख बंदरगाहों को ‘पोर्ट0’ में बदलना
  3. बंदरगाह कार्यबल को कम करना
  4. पारंपरिक नेविगेशन विधियों को बढ़ाना

सही उत्तर: B) प्रमुख बंदरगाहों को ‘पोर्ट 4.0’ में बदलना

स्पष्टीकरण: सम्मेलन का उद्देश्य प्रमुख बंदरगाहों को ‘पोर्ट 4.0’ में बदलने पर चर्चा करना है, जिसमें उन्नत डिजिटल और तकनीकी एकीकरण शामिल है।

4. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर सम्मेलन के दौरान भारतीय बंदरगाहों में कार्यान्वयन के लिए किस तकनीक पर प्रकाश डाला गया?

  1. 4G तकनीक
  2. 5G तकनीक
  3. सैटेलाइट संचार
  4. फाइबर ऑप्टिक्स

सही उत्तर: B) 5G तकनीक

स्पष्टीकरण: सम्मेलन भारतीय बंदरगाहों में 5G तकनीक के कार्यान्वयन के लिए एक रोडमैप बनाने पर केंद्रित है।

5. बंदरगाहों में नेविगेशन और सुरक्षा में सुधार के लिए कौन सी उन्नत प्रणाली शुरू करने का इरादा है?

  1.  पारंपरिक रडार सिस्टम
  2.  उन्नत पोत यातायात प्रबंधन प्रणाली
  3.  मैनुअल यातायात नियंत्रण
  4.  बुनियादी जीपीएस नेविगेशन

सही उत्तर: बी) उन्नत पोत यातायात प्रबंधन प्रणाली

स्पष्टीकरण: सम्मेलन का उद्देश्य बंदरगाहों में नेविगेशन और सुरक्षा में सुधार के लिए उन्नत पोत यातायात प्रबंधन प्रणाली शुरू करना है।

6. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर सम्मेलन बंदरगाह स्थिरता को बढ़ाने की योजना कैसे बनाता है?

  1. जहाजों की संख्या को कम करके
  2. विशेष रूप से नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों का उपयोग करके
  3. उन्नत प्रौद्योगिकियों का लाभ उठाकर
  4. बंदरगाह संचालन को कम करके

सही उत्तर: सी) उन्नत प्रौद्योगिकियों का लाभ उठाकर

स्पष्टीकरण: सम्मेलन उन्नत प्रौद्योगिकियों का उपयोग करके बंदरगाह स्थिरता को बढ़ाने की योजना बनाता है।

7. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर सम्मेलन में चर्चा के विषय के रूप में निम्नलिखित में से किस तकनीक का उल्लेख नहीं किया गया है?

  1. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई)
  2. ब्लॉकचेन
  3. इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT)
  4. क्वांटम कंप्यूटिंग

सही उत्तर: डी) क्वांटम कंप्यूटिंग

स्पष्टीकरण: क्वांटम कंप्यूटिंग का उल्लेख दी गई सामग्री में नहीं किया गया है; फोकस एआई, ब्लॉकचेन और IoT पर है।

8. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर सम्मेलन में मुख्य प्रतिभागी कौन हैं?

  1. शिपिंग क्रू सदस्य
  2. उद्योग विशेषज्ञ, शोधकर्ता, पेशेवर, बंदरगाह प्रशासक और नीति निर्माता
  3. स्थानीय सरकारी अधिकारी
  4. आम जनता

सही उत्तर: B) उद्योग विशेषज्ञ, शोधकर्ता, पेशेवर, बंदरगाह प्रशासक और नीति निर्माता

स्पष्टीकरण: सम्मेलन में उद्योग विशेषज्ञ, शोधकर्ता, पेशेवर, बंदरगाह प्रशासक और नीति निर्माता भाग लेंगे।

9. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर सम्मेलन में चर्चा की गई AI और उन्नत पोत यातायात प्रबंधन प्रणालियों को लागू करने का एक प्रमुख लाभ क्या है?

  1. परिचालन लागत में कमी
  2. बेहतर नेविगेशन, सुरक्षा और दक्षता
  3. बंदरगाह कार्यबल में वृद्धि
  4. मैनुअल नेविगेशन कौशल में वृद्धि

सही उत्तर: B) बेहतर नेविगेशन, सुरक्षा और दक्षता

स्पष्टीकरण: AI और उन्नत पोत यातायात प्रबंधन प्रणालियों को लागू करने का उद्देश्य नेविगेशन, सुरक्षा और दक्षता में सुधार करना है।

10. पोर्ट ऑफ द फ्यूचर सम्मेलन में वैश्विक बंदरगाहों के 5G संचार नेटवर्क पर चर्चा क्यों शामिल की गई है?

  1. पारंपरिक संचार विधियों पर जोर देना
  2. यह समझना कि 5G नेटवर्क बंदरगाहों की प्रतिस्पर्धात्मकता को कैसे बढ़ा सकते हैं
  3. डिजिटल प्रौद्योगिकियों को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करना
  4. उपग्रह-आधारित संचार को बढ़ावा देना

सही उत्तर: B) यह समझना कि 5G नेटवर्क बंदरगाहों की प्रतिस्पर्धात्मकता को कैसे बढ़ा सकते हैं

स्पष्टीकरण: सम्मेलन में बंदरगाहों की प्रतिस्पर्धात्मकता बढ़ाने में उनकी भूमिका को समझने के लिए वैश्विक बंदरगाहों के 5G संचार नेटवर्क पर चर्चा शामिल है।

(Source: AIR News, PIB News, DD News, BBC News, Bhaskar News ,Wikipedia)

ये भी पढ़ें:नीति आयोग शुरू किया ‘संपूर्णता अभियान’

ये भी पढ़ें:अपर सचिव डॉ. चंद्र शेखर कुमार ने CLGF वार्षिक बोर्ड की बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व किया

ये भी पढ़ें:CSIR-CIMFR: कोयला गैसीकरण कार्यशाला “केयरिंग-2024” का शुभारंभ

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
fb-share-icon20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Domestic helper visa extension hk$900.