The New Sites

CSIR-CIMFR: कोयला गैसीकरण कार्यशाला “केयरिंग-2024” का शुभारंभ

संक्षेप नोट्स और MCQs परीक्षा के दृष्टि से

  • मुख्य आयोजन
    • विषय: कोयला गैसीकरण में चुनौतियाँ और अवसर
    • तिथि: 26-27 जून, 2024
    • स्थान: CSIR-CIMFR, डिगवाडीह परिसर
    • प्रतिभागी: उद्योग जगत की हस्तियां, शोधकर्ता, नीति निर्मात, हितधारक
  • प्रतिभागी संगठन
    • कोल इंडिया लिमिटेड (CIL)
    • स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL)
    • जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड (JSPL) अंगुल
    • हिंडाल्को इंडस्ट्रीज
    • थर्मैक्स
    • विभिन्न संगठनों से 75+ प्रतिभागी
  • कार्यशाला की शुरुआत
    • उद्घाटन समारोह: डॉ. अरविंद कुमार मिश्रा, निदेशक CSIR-CIMFR
    • स्वागत भाषण: वैश्विक ऊर्जा मिश्रण में कोयले का महत्व
    • गैसीकरण की क्षमता: मेथनॉल, रसायन, उर्वरक, तरल ईंधन उत्पादन
  • गैसीकरण प्रमुख: डॉ. प्रकाश डी. चव्हाण
    • उद्देश्य और प्रासंगिकता: टिकाऊ ऊर्जा समाधान, औद्योगिक विकास
    • मुख्य भूमिका: ऊर्जा समाधान, विकास को बढ़ावा
  • मुख्य अतिथि: श्री आनंदजी प्रसाद, कोयला मंत्रालय के परियोजना सलाहकार
    • ज्ञानवर्धक भाषण: भारत के ऊर्जा परिदृश्य में गैसीकरण की क्षमता
    • सरकारी आवंटन: 8500 करोड़ रुपये
    • ऊर्जा सुरक्षा: गैसीकरण परियोजनाओं के कार्यान्वयन
  • उद्देश्य
    • सहयोग, नवाचार और ज्ञान साझाकरण
    • चुनौतियों का समाधान, अवसरों की खोज
    • ऊर्जा सुरक्षा और स्थिरता में योगदान
  • CSIR वन वीक वन थीम-ऊर्जा और ऊर्जा उपकरण कार्यक्रम के तहत

कोयला गैसीकरण कार्यशाला “केयरिंग-2024 से सम्बंधित MCQs

1. CSIR-CIMFR द्वारा आयोजित दो दिवसीय कार्यशाला “केयरिंग-2024” का मुख्य फोकस क्या था?

  1. नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत
  2. कोयला गैसीकरण में चुनौतियाँ और अवसर
  3. खनन सुरक्षा तकनीक
  4. कार्बन कैप्चर और भंडारण

उत्तर:B. कोयला गैसीकरण में चुनौतियाँ और अवसर

स्पष्टीकरण: कार्यशाला “केयरिंग-2024” का आयोजन कोयला गैसीकरण में चुनौतियों और अवसरों पर ध्यान केंद्रित करने, इसकी जटिलताओं और संभावनाओं की खोज करने के लिए किया गया था।

2. कार्यशाला “केयरिंग-2024” में किन उल्लेखनीय संस्थाओं ने भाग लिया?

  1. कोल इंडिया लिमिटेड (CIL)
  2. स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL)
  3. जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड (JSPL)
  4. उपरोक्त सभी

उत्तर: d) उपरोक्त सभी

स्पष्टीकरण: कार्यशाला में कोल इंडिया लिमिटेड (CIL), स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) और जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड (JSPL) जैसी संस्थाओं ने भाग लिया।

3. कोयला मंत्रालय द्वारा वर्ष 2030 के लिए गैसीकरण लक्ष्य क्या निर्धारित किया गया है?

  1. 50 मीट्रिक टन
  2. 75 मीट्रिक टन
  3. 100 मीट्रिक टन
  4. 150 मीट्रिक टन

उत्तर: c) 100 मीट्रिक टन

स्पष्टीकरण: कोयला मंत्रालय ने 2030 तक 100 मीट्रिक टन कोयला गैसीकरण प्राप्त करने का लक्ष्य रखा है।

4. “केयरिंग-2024” कार्यशाला किस कार्यक्रम के तहत आयोजित की गई थी?

  1. राष्ट्रीय अक्षय ऊर्जा कार्यक्रम
  2. एक सप्ताह एक थीम-ऊर्जा और ऊर्जा उपकरण
  3. सतत खनन पहल
  4. उन्नत कोयला उपयोग कार्यक्रम

उत्तर: b) एक सप्ताह एक थीम-ऊर्जा और ऊर्जा उपकरण

स्पष्टीकरण: कार्यशाला का आयोजन CSIR द्वारा “एक सप्ताह एक थीम-ऊर्जा और ऊर्जा उपकरण” कार्यक्रम के तहत किया गया था।

5. मुख्य अतिथि द्वारा बताए गए अनुसार, सरकार ने गैसीकरण परियोजनाओं को बढ़ावा देने के लिए कितनी राशि आवंटित की है?

  1. ₹5000 करोड़
  2. ₹6500 करोड़
  3. ₹8500 करोड़
  4. ₹10000 करोड़

उत्तर: c) ₹8500 करोड़

स्पष्टीकरण: मुख्य अतिथि श्री आनंदजी प्रसाद ने गैसीकरण परियोजनाओं के कार्यान्वयन को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार द्वारा ₹8500 करोड़ के आवंटन का उल्लेख किया।

(Source: AIR News, PIB News, DD News, BBC News, Bhaskar News ,Wikipedia)

ये भी पढ़ें:आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय की पहल ‘सफाई अपनाओ बीमारी भगाओ’

ये भी पढ़ें:भोपाल, मध्य प्रदेश में एवियन इन्फ्लूएंजा प्रकोप और प्रतिक्रिया का मिथ्या अभ्यास

ये भी पढ़ें:ADB ने भारत को स्वास्थ्य प्रणाली के लिए $170 मिलियन का ऋण दिया

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
fb-share-icon20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Advantages of overseas domestic helper.