The New Sites

Today current affairs in Hindi 23 January 2024;डेली करंट अफेयर्स हिंदी में

Today current affairs in Hindi 23 January 2024

“TheNewSites” Team के द्वारा प्रकाशित Daily current affairs in Hindi, Today current affairs Hindi 2024, Current affairs for upsc, State PSC, SSC, Banking, Railways in Hindi सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयुक्त है। इसके अलावे दिन भर के महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स हमारे साइट पर जाके पढ़ सकते है।

“प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना” की शुरआत

  • प्रधानमंत्री ने 1 करोड़ घरों में रूफटॉप सौर ऊर्जा स्थापित करने का लक्ष्य रखा है।
  • अपनी अयोध्या यात्रा के बाद, प्रधानमंत्री ने अपने आवास पर एक बैठक की अध्यक्षता करके “प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना” की शुरुआत की।
  • बैठक के दौरान, प्रधानमंत्री ने सूर्य की ऊर्जा का उपयोग छत वाले प्रत्येक घर में किया जा सकने वाले बिजली के बिल को कम करने के लिए और घरों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रोत्साहित किया।
  • योजना का उद्देश्य निम्न और मध्यम आय वाले व्यक्तियों को रूफटॉप सौर ऊर्जा की स्थापना के माध्यम से बिजली उपलब्ध करना है और इससे अतिरिक्त आय उत्पन्न करने का अवसर प्रदान करना है।
  • प्रधानमंत्री ने आवासीय क्षेत्र के उपभोक्ताओं को बड़ी संख्या में रूफटॉप सौर ऊर्जा अपनाने के लिए एक व्यापक राष्ट्रीय अभियान की शुरुआत करने का निर्देश दिया है।

ये भी पढ़ें: Joint Military Exercise Cyclone: संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘साइक्लोन’ के लिए भारतीय सेना के विशेष बल मिस्र पहुंचे

केंद्रीय सरकार फ्री मूवमेंट को रोकेगी

  • 20 जनवरी को, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने असम में घुसपैठ और आतंकियों को म्यांमार से भागने से रोकने के लिए ‘फ्री मूवमेंट’ को रोकने का आदेश दिया। इसके लिए भारत-म्यांमार सीमा पर खुली सीमा बनाई जाएगी।
  • गुवाहाटी में असम पुलिस की पासिंग आउट परेड में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि म्यांमार के साथ हमारी खुली सीमा है, जिसे हम बांग्लादेश की तरह बाड़ लगाकर सुरक्षित करेंगे।
  • अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर और मिजोरम के चार भारत के राज्यों ने म्यांमार से सीमा बनाई है।
  • भारत और म्यांमार की सीमा कुल 1600 किलोमीटर है।
  • म्यांमार के चिन प्रांत और मिजोरम के बीच 510 किलोमीटर की सीमा है।
  • 1970 में दोनों देशों ने ‘फ्री मूवमेंट’ का समझौता किया था, और तब से सरकार इसे निरंतर रिन्यू करती रही है।
  • इस योजना को 2016 में पुनः लागू किया गया था।
  • मुख्यमंत्री लालदुहोमा ने शिलांग में हुई एक बैठक में गृह मंत्री अमित शाह से मिजोरम में आतंकियों की घुसपैठ को लेकर चर्चा की।
  • इस दौरान, मिजोरम ने म्यांमार सेना के जवानों की जल्द वापसी की जरूरत पर जोर दिया।
  • भारत और म्यांमार की सीमा पर 25 किलोमीटर तक जाने की अनुमति है, इसलिए म्यांमार से लोग आसानी से भारत आ सकते हैं।

ये भी पढ़ें: Republic Day Celebration 2024: गणतंत्र दिवस समारोह 2024, राष्ट्रीय स्कूल बैंड प्रतियोगिता के विजेता घोषित

इस वर्ष 2024 में कुल 26 झांकियां शामिल होंगी गणतंत्र दिवस परेड में

  • नई दिल्ली के कर्तव्य पथ पर इस वर्ष कुल 26 झांकियां शामिल होंगी।
  • इनमें समाहित होंगी 16 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की झांकियां।
  • 10 झांकियां मंत्रालयों, विभागों और संगठनों की होंगी।
  • अरुणाचल प्रदेश, हरियाणा, मणिपुर, मध्य प्रदेश, ओडिसा, छत्तीसगढ, राजस्थान, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, लद्दाख, तमिलनाडु, गुजरात, मेघालय, झारखंड, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना की झांकियां शामिल होंगी।

Sarar War Museum में पांच नई दीर्घाओं का उद्घाटन

  • हैदराबाद के सालार जंग संग्रहालय में केंद्रीय संस्कृति और पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने पांच नई दीर्घाओं का उद्घाटन किया।
  • मंत्री ने सालार जंग संग्रहालय को भारत में सबसे महत्वपूर्ण संग्रहालयों में से एक बताया।
  • संग्रहालय ने नवाचार और उन्नयन का प्रयास किया है, पुरानी दीर्घाओं को पुनर्गठित करके नई दीर्घाएं जोड़ दी हैं।
  • विष्णु की मूर्ति, जो काकतीय काल की है, सैकड़ों साल पुरानी है। बिदरीकला दीर्घा में तीन सौ अलग-अलग वस्तुएं हैं।
  • सौ से अधिक कांस्य और पचास संगमरमर मूर्तियां यूरोपीय कांस्य दीर्घा में हैं।
  • राष्ट्रीय संग्रहालय के अपर महानिदेशक आशीष गोयल, प्रोफेसर वाई. सुदर्शन राव और प्रसिद्ध मूर्तिकार डॉक्टर ए.यादगिरी राव भी उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें: Prime Ministers National Childrens Award: प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार, 2024 की घोषणा, राष्ट्रपति करेंगे पुरस्कृत, जानिये विजेताओं की पूरी सूची

PM मोदी ने श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा अयोध्या के राम मंदिर में की

  • 22 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा अयोध्या में राम मंदिर में की।
  • 12 बजे वह हल्के पीले रंग की धोती और कुर्ता पहनकर मंदिर परिसर में पहुंचे, जो मुख्य यजमान का पद था।
  • 84 सेकंड के मुहूर्त में श्रीरामलला की प्राण-प्रतिष्ठा की गई।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश के गवर्नर आनंदी बेन पटेल, RSS प्रमुख मोहन भागवत और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस दौरान मंदिर के गर्भगृह में उपस्थित थे।
  • इस कार्यक्रम में बॉलीवुड, साउथ और बिजनेसमैन और संत पहुंचे।
  • यूपी, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड के पांच राज्यों ने 12 एयरपोर्ट को पार्किंग के लिए आरक्षित किया है।
  • न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर पर श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा जीवित प्रदर्शन हुआ।
  • श्रीलंका के सीता एलिया मंदिर में भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा की गई।
  • अयोध्या में राम मंदिर का 2.7 एकड़ का कुल क्षेत्र है।
  • इस मंदिर की ऊंचाई लगभग 380 फीट और चौड़ाई 250 फीट है।
  • मंदिर को बनाने में लोहे और स्टील का इस्तेमाल नहीं किया गया था।
  • इस मंदिर में श्रीरामलला की प्रतिमा 51 इंच ऊंची है।
  • इस मंदिर का निर्माण करने में लगभग 1800 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।
  • 9 नवंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों वाली बैंच, प्रमुख जस्टिस रंजन गोगोई ने राम मंदिर निर्माण को मंजूरी दी।

डॉ. जगदीश गांधी की मृत्यु

डॉ. जगदीश गांधी की मृत्यु
डॉ. जगदीश गांधी की मृत्यु
  • 22 जनवरी को सिटी मोंटेसरी स्कूल (CMS) के संस्थापक प्रबंधक जगदीश गांधी का निधन हुआ।
  • 25 दिन से लखनऊ के मेदांता अस्पताल में उपचार चल रहा था। 28 दिसंबर को उन्हें कार्डियक अरेस्ट के बाद ब्रेन में ऑक्सीजन की कमी के कारण मेदांता में भर्ती कराया गया. उसके बाद से वेंटिलेटर सपोर्ट पर रहे।
  • डॉ. जगदीश गांधी का जन्म 10 नवंबर 1936 को अलीगढ़ जिले के ग्राम बरसौली में एक किसान परिवार में हुआ था।
  • डॉ. जगदीश गांधी बचपन से ही महात्मा गांधी की सत्य, अहिंसा, सेवा, सादगी और सर्वधर्म प्रेम से प्रभावित थे।
  • 30 जनवरी 1948 को, महात्मा गांधी की हत्या के बाद, जगदीश ने अपने पिता की सहमति से स्कूल के प्रिंसिपल को एक पत्र लिखकर अपना नाम जगदीश प्रसाद अग्रवाल से बदलकर जगदीश गांधी करने की मांग की।
  • डॉ. जगदीश गांधी ने 21 अंतरराष्ट्रीय शैक्षिक सम्मेलनों और विश्व के मुख्य न्यायाधीशों के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों का आयोजन किया।
  • गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड में, CMS एक ही शहर में 61,000 से अधिक बच्चों वाले विश्व के सबसे बड़े स्कूल के रूप में नामांकित है।
  • लखनऊ के सिटी मोंटेसरी स्कूल को 2002 में यूनेस्को ने “अंतर्राष्ट्रीय शांति शिक्षा पुरस्कार” से सम्मानित किया गया था।

(Source: AIR News, PIB News, DD News, BBC News, Bhaskar News)

Read more…..

01 जनवरी 2023 का Daily current affairs in Hindi.

FAQs:

  1. प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना क्या है?

    “प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना” एक सरकारी योजना है जिसका मुख्य उद्देश्य है 1 करोड़ घरों में रूफटॉप सौर ऊर्जा स्थापित करना। इसके माध्यम से सूर्य की ऊर्जा का उपयोग करके बिजली के बिल को कम करना और घरों को आत्मनिर्भर बनाने को प्रोत्साहित किया जा रहा है।

  2. कैसे और कब शुरू हुई “प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना”?

    “प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना” की शुरुआत प्रधानमंत्री अपनी अयोध्या यात्रा के बाद की एक बैठक में की गई थी, जिसमें उन्होंने योजना की महत्वपूर्ण बातें साझा की और इसे लागू करने का निर्णय लिया।

  3. प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?

    योजना का मुख्य उद्देश्य निम्न और मध्यम आय वाले व्यक्तियों को रूफटॉप सौर ऊर्जा की स्थापना के माध्यम से बिजली उपलब्ध करना है और इससे अतिरिक्त आय उत्पन्न करने का अवसर प्रदान करना है।

  4. क्या यह प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना आवासीय क्षेत्र के लोगों के लिए है?

    हां, प्रधानमंत्री ने योजना के अंतर्गत आवासीय क्षेत्र के उपभोक्ताओं को बड़ी संख्या में रूफटॉप सौर ऊर्जा अपनाने के लिए एक राष्ट्रीय अभियान की शुरुआत करने का निर्देश दिया है।

  5. कैसे लोग इस प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना का लाभ उठा सकते हैं?

    इस योजना के अंतर्गत, लोग रूफटॉप सौर ऊर्जा की स्थापना करके बिजली का उपयोग कर सकते हैं और इससे आत्मनिर्भरता बढ़ा सकते हैं। इसके साथ ही, इससे अतिरिक्त आय भी उत्पन्न हो सकती है।

  6. “फ्री मूवमेंट” क्या है और क्यों केंद्रीय सरकार ने इसे रोकने का निर्णय लिया है?

    “फ्री मूवमेंट” एक समझौता है जिसके तहत भारत और म्यांमार के बीच सीमा पर 1600 किलोमीटर की सीमा बनाई गई थी। केंद्रीय सरकार ने असम में घुसपैठ और आतंकियों को म्यांमार से भागने से रोकने के लिए इस “फ्री मूवमेंट” को रोकने का आदेश दिया है।

  7. कब और कैसे हुआ इस “फ्री मूवमेंट” निर्णय का ऐलान?

    20 जनवरी को, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुवाहाटी में असम पुलिस की पासिंग आउट परेड में कहा कि म्यांमार के साथ हमारी खुली सीमा है, जिसे हम बांग्लादेश की तरह बाड़ लगाकर सुरक्षित करेंगे।

  8. भारत और म्यांमार की सीमा की विशेषताएं क्या हैं?

    अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर और मिजोरम के चार भारतीय राज्यों ने म्यांमार से सीमा बनाई है और इस सीमा की कुल लंबाई 1600 किलोमीटर है।

  9. क्या इस “फ्री मूवमेंट” को पुनः लागू किया गया है?

    हां, इस “फ्री मूवमेंट” को 2016 में पुनः लागू किया गया था, जिसके अंतर्गत लोग 25 किलोमीटर तक जा सकते हैं और म्यांमार से भारत आ सकते हैं।

  10. क्या इस “फ्री मूवमेंट” निर्णय का मुख्य उद्देश्य सुरक्षा है?

    हां, गृह मंत्री ने यह सुनिश्चित करने के लिए इस निर्णय को लिया है कि असम में घुसपैठ और आतंकियों को म्यांमार से भागने से रोका जा सके और सीमा सुरक्षित रहे।

  11. इस वर्ष कितनी झांकियां शामिल होंगी गणतंत्र दिवस परेड 2024 में?

    इस वर्ष, गणतंत्र दिवस परेड में कुल 26 झांकियां शामिल होंगी।

  12. इन 26 झांकियों में कौन-कौन से राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की झांकियां होंगी?

    इन 26 झांकियों में समाहित होंगी 16 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की झांकियां।

  13. गणतंत्र दिवस परेड 2024 में कितनी झांकियां मंत्रालयों, विभागों और संगठनों की होंगी?

    गणतंत्र दिवस परेड में, 10 झांकियां मंत्रालयों, विभागों और संगठनों की होंगी।

  14. गणतंत्र दिवस परेड 2024 में कौन-कौन से राज्यों की झांकियां शामिल होंगी?

    गणतंत्र दिवस परेड में, अरुणाचल प्रदेश, हरियाणा, मणिपुर, मध्य प्रदेश, ओडिसा, छत्तीसगढ़, राजस्थान, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, लद्दाख, तमिलनाडु, गुजरात, मेघालय, झारखंड, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना की झांकियां शामिल होंगी।

  15. सालार जंग संग्रहालय क्या है और इसमें कौन-कौन सी नई दीर्घाएं शामिल की गई हैं?

    सालार जंग संग्रहालय, हैदराबाद में, केंद्रीय संस्कृति और पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने पांच नई दीर्घाओं का उद्घाटन किया है।

  16. सालार जंग संग्रहालय का क्या उद्देश्य है?

    संग्रहालय ने नवाचार और उन्नयन का प्रयास किया है, पुरानी दीर्घाओं को पुनर्गठित करके नई दीर्घाएं जोड़ी हैं।

  17. सालार जंग संग्रहालय में कौन-कौन सी अनूठी वस्तुएं हैं?

    संग्रहालय में विष्णु की मूर्ति, जो काकतीय काल की है, और बिदरीकला दीर्घा में तीन सौ अलग-अलग वस्तुएं हैं। सौ से अधिक कांस्य और पचास संगमरमर मूर्तियां यूरोपीय कांस्य दीर्घा में हैं।

  18. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कब और कहां श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा की?

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 जनवरी को अयोध्या के राम मंदिर में श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा की।

  19. मंदिर के गर्भगृह में प्राण प्रतिष्ठा की गई थी, इसका कौन-कौन सा साक्षात्कार हुआ था?

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश के गवर्नर आनंदी बेन पटेल, RSS प्रमुख मोहन भागवत, और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस दौरान मंदिर के गर्भगृह में उपस्थित थे।

  20. श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा के समय कितनी देर लगी और कैसे किया गया?

    श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा में 84 सेकंड की देर में इसका आयोजन किया गया।

  21. मंदिर की निर्माण में कौन-कौन से सामग्रीयाँ इस्तेमाल हुईं और इसका खर्च कितना हुआ?

    मंदिर का निर्माण करने में लोहे और स्टील का इस्तेमाल नहीं किया गया था, और इसका खर्च लगभग 1800 करोड़ रुपये हुआ है।

  22. राम मंदिर निर्माण की मंजूरी कब मिली थी?

    9 नवंबर 2019 को सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों वाली बैंच, प्रमुख जस्टिस रंजन गोगोई ने राम मंदिर निर्माण को मंजूरी दी थी।

  23. डॉ. जगदीश गांधी का निधन कब हुआ और उनके मृत्यु के पीछे का कारण क्या था?

    डॉ. जगदीश गांधी का निधन 22 जनवरी को हुआ, और उनकी मृत्यु का कारण ब्रेन में ऑक्सीजन की कमी और कार्डियक अरेस्ट था।

  24. डॉ. जगदीश गांधी का जन्म कहां हुआ था और उनका बचपन कैसा रहा था?

    डॉ. जगदीश गांधी का जन्म 10 नवंबर 1936 को अलीगढ़ जिले के ग्राम बरसौली में एक किसान परिवार में हुआ था, और उनका बचपन से ही महात्मा गांधी के आदर्शों से प्रभावित रहा था।

  25. डॉ. जगदीश गांधी ने कौन-कौन से महत्वपूर्ण कार्य किए थे?

    डॉ. जगदीश गांधी ने 21 अंतरराष्ट्रीय शैक्षिक सम्मेलनों और विश्व के मुख्य न्यायाधीशों के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों का आयोजन किया।

  26. CMS के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी दीजिए।

    CMS एक ही शहर में 61,000 से अधिक बच्चों वाले विश्व के सबसे बड़े स्कूल के रूप में गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड में नामांकित है।
    2002 में यूनेस्को ने CMS को “अंतर्राष्ट्रीय शांति शिक्षा पुरस्कार” से सम्मानित किया गया था।

  27. क्या डॉ. जगदीश गांधी का कोई अभिवादन करने वाला व्यक्ति था?

    हाँ, डॉ. जगदीश गांधी ने अपने बचपन में अपने पिता के नाम को “जगदीश प्रसाद अग्रवाल” से बदलकर “जगदीश गांधी” करने की मांग की थी।

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
fb-share-icon20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Advantages of overseas domestic helper.