The New Sites

भारत और मलेशिया का द्विपक्षीय समुद्री नौसैन्य अभ्यास समुद्र लक्ष्मण

संक्षेप नोट्स और MCQs परीक्षा के दृष्टि से

परिचय

  • समय और स्थान
    • 28 फरवरी – 2 मार्च 2024
    • विशाखापट्टनम

प्रतिभागी जहाज

  • भारतीय नौसेना: आईएनएस किल्टन
  • रॉयल मलेशियाई नौसेना: केडी लकीर

उद्देश्य

  • संबंधों को सशक्त करना
  • आपसी सामंजस्य को बढ़ाना

गतिविधियाँ

  • समुद्री संचालन प्रक्रिया
  • पेशेवर विचार-विमर्श
  • कार्य-प्रणालियों से संबंधित बातचीत
  • विषय विशेषज्ञ आदान-प्रदान
  • खेल कार्यक्रम
  • अन्य संवाद

उद्देश्य और लाभ

  • ज्ञान के आधार को बढ़ाना
  • सर्वोत्तम कार्य-प्रणालियों को साझा करना
  • समुद्र संबंधी दृष्टिकोणों पर आपसी सहयोग

समुद्री चरण

  • संयुक्त नौसैन्य अभियान
  • कौशल निखारना

भारत और मलेशिया का द्विपक्षीय समुद्री नौसैन्य अभ्यास समुद्र लक्ष्मण से सम्बंधित MCQs:

1. द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास “समुद्र लक्ष्मण” कब आयोजित किया गया?

  1. 15-17 जनवरी, 2024
  2. 28 फरवरी – 2 मार्च, 2024
  3. 10-12 मार्च, 2024
  4.  5-7 अप्रैल, 2024

सही उत्तर: B) 28 फरवरी – 2 मार्च, 2024

स्पष्टीकरण: दी गई जानकारी के अनुसार, अभ्यास “समुद्र लक्ष्मण” 28 फरवरी से 2 मार्च, 2024 तक आयोजित किया गया है।

2. द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास “समुद्र लक्ष्मण” में भारतीय नौसेना का कौन सा जहाज भाग ले रहा है?

  1. INS विक्रांत
  2. INS कोलकाता
  3. INS किल्टन
  4. INS कलवरी

सही उत्तर: C) INS किल्टन

स्पष्टीकरण: इस अभ्यास में भाग लेने वाला भारतीय नौसेना का जहाज INS किल्टन है।

3. द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास “समुद्र लक्ष्मण” में शामिल रॉयल मलेशियाई नौसेना के जहाज का नाम क्या है?

  1. केडी जेबत
  2. केडी लेकिर
  3. केडी महावांग्सा
  4. केडी लेक्यु

सही उत्तर: B) केडी लेकिर

स्पष्टीकरण: अभ्यास में भाग लेने वाला रॉयल मलेशियाई नौसेना का जहाज केडी लेकिर है।

4. अभ्यास “समुद्र लक्ष्मण” का मुख्य उद्देश्य क्या है?

  1. नए नौसैनिक हथियारों का परीक्षण करना
  2. देशों के बीच पर्यटन को बेहतर बनाना
  3. भारतीय और रॉयल मलेशियाई नौसेना के बीच संबंधों को मजबूत करना और आपसी समन्वय को बढ़ाना
  4. खोज और बचाव मिशन का संचालन करना

सही उत्तर: C) भारतीय और रॉयल मलेशियाई नौसेना के बीच संबंधों को मजबूत करना और आपसी समन्वय को बढ़ाना

स्पष्टीकरण: अभ्यास का उद्देश्य भारतीय और रॉयल मलेशियाई नौसेना के बीच संबंधों को मजबूत करना और आपसी समन्वय को बढ़ाना है।

5. निम्नलिखित में से कौन सी गतिविधियाँ बंदरगाह पर चालक दल करेंगे?

  1. पनडुब्बी अभ्यास
  2. नौसेना युद्ध अभ्यास
  3. आपसी हित के मुद्दों पर विषय वस्तु विशेषज्ञों का आदान-प्रदान
  4. मिसाइल प्रक्षेपण

सही उत्तर: C) आपसी हित के मुद्दों पर विषय वस्तु विशेषज्ञों का आदान-प्रदान

स्पष्टीकरण: चालक दल विभिन्न परिचालन प्रक्रियाओं, आपसी हित के मुद्दों पर विषय वस्तु विशेषज्ञों के आदान-प्रदान और संवाद के अन्य रूपों से संबंधित बातचीत में भाग लेंगे।

6. समुद्री चरण के दौरान, दोनों दल संयुक्त रूप से क्या करेंगे?

  1. समुद्री व्यापार चर्चाएँ
  2. अपने कौशल को बढ़ाने के लिए विभिन्न नौसैनिक अभियान
  3. पर्यावरण संरक्षण गतिविधियाँ
  4. मछली पकड़ने के अभियान

सही उत्तर: B) अपने कौशल को बढ़ाने के लिए विभिन्न नौसैनिक अभियान

स्पष्टीकरण: समुद्री चरण के दौरान, दोनों दल अपने कौशल को निखारने के लिए विभिन्न नौसैनिक अभियान संयुक्त रूप से चलाएंगे।

7. कौन सा बंदरगाह शहर “समुद्र लक्ष्मण” अभ्यास की मेजबानी कर रहा है?

  1. मुंबई
  2. कोच्चि
  3. विशाखापत्तनम
  4. चेन्नई

सही उत्तर: C) विशाखापत्तनम

स्पष्टीकरण: अभ्यास विशाखापत्तनम में आयोजित किया जा रहा है।

8. भाग लेने वाली नौसेनाओं के बीच सौहार्द बढ़ाने के लिए किस प्रकार की गतिविधियों की योजना बनाई गई है?

  1. प्रतिस्पर्धी खेल आयोजन और सामाजिक संपर्क
  2. राजनीतिक बहस
  3. वाणिज्यिक वार्ता
  4. सांस्कृतिक उत्सव

सही उत्तर: A) प्रतिस्पर्धी खेल आयोजन और सामाजिक संपर्क

स्पष्टीकरण: नौसेनाओं के बीच सौहार्द बढ़ाने के लिए खेल आयोजन और सामाजिक संपर्क के अन्य रूपों जैसी गतिविधियों की योजना बनाई गई है।

9. द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास “समुद्र लक्ष्मण” के दौरान ज्ञान के आदान-प्रदान से अपेक्षित विशिष्ट परिणामों में से एक क्या है?

  1. एक नया समुद्री कानून विकसित करना
  2. ज्ञान के आधार का विस्तार करना और सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करना
  3. नए व्यापार मार्ग स्थापित करना
  4. दोनों देशों के बीच पर्यटन को बढ़ाना

सही उत्तर: B) ज्ञान के आधार का विस्तार करना और सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करना

स्पष्टीकरण: अभ्यास का उद्देश्य ज्ञान के आधार का विस्तार करना और समुद्री संचालन से संबंधित सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करना है।

10. यह द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास “समुद्र लक्ष्मण” भारतीय और रॉयल मलेशियाई नौसेनाओं के लिए क्यों महत्वपूर्ण है?

  1. यह दोनों नौसेनाओं के बीच पहला संयुक्त अभ्यास है
  2. यह मानवीय सहायता और आपदा राहत पर केंद्रित है
  3. यह द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करता है और आपसी समझ और सहयोग को बढ़ाता है
  4. इसमें अन्य अंतर्राष्ट्रीय नौसेनाओं की भागीदारी शामिल है

सही उत्तर: C) यह द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करता है और आपसी समझ और सहयोग को बढ़ाता है

स्पष्टीकरण: यह अभ्यास महत्वपूर्ण है क्योंकि इसका उद्देश्य द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करना और भारतीय और रॉयल मलेशियाई नौसेनाओं के बीच आपसी समझ और सहयोग को बढ़ाना है।

(Source: AIR News, PIB News, DD News, BBC News, Bhaskar News ,Wikipedia)

ये भी पढ़ें:त्रिपक्षीय सैन्य अभ्यास दोस्ती का 16वां संस्करण: भारत-मालदीव-श्रीलंका

ये भी पढ़ें:भारतीय वायुसेना का अभ्यास वायु शक्ति-24

ये भी पढ़ें:संयुक्त सैन्य अभ्यास वज्र प्रहार का 14वां संस्करण

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
fb-share-icon20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Domestic helper visa extension hk$900.