The New Sites

Anubhav Puraskar Scheme: अनुभव पुरस्कार योजना, 2024  सेवानिवृत्त कर्मचारियों का अनुभव साझा करने का महत्वपूर्ण मंच

Anubhav Puraskar Scheme: पेंशन एवं पेंशनभोगी कल्याण विभाग ने माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार के साथ मिलकर सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों के अनुभवों को साझा करने के लिए मार्च 2015 में ‘अनुभव पोर्टल’ का शुभारंभ किया था। इस पोर्टल के माध्यम से सरकार ने एक ऐसा मंच स्थापित किया है जिसका उद्देश्य सुशासन और प्रशासनिक सुधारों के लिए स्वर्णिम आधारशिला बनाना है।

अनुभव पुरस्कार योजना 2024 की घोषणा

भारत सरकार ने अनुभव पुरस्कार योजना 2024 को अधिसूचित कर दिया है, जिसमें सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को सरकार के साथ भागीदारी में लेने का एक नया मंच प्रदान किया गया है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत, सेवानिवृत्ति से 8 महीने पहले और सेवानिवृत्ति के 1 वर्ष बाद तक कर्मचारियों/पेंशनभोगियों को अपने अनुभवों को साझा करने का मौका मिलेगा। इन लेखों को संबंधित मंत्रालयों/विभागों द्वारा मूल्यांकन किया जाएगा और चयनित लेखों को अनुभव पुरस्कार और निर्णायक समिति के प्रमाणपत्र के लिए चुना जाएगा।

ये भी पढ़ें: Atal Bridge: प्रधानमंत्री ने नवी मुंबई में अटल बिहारी वाजपेयी सेवरी-न्हावा शेवा अटल सेतु का उद्घाटन किया

महत्वपूर्ण तिथियाँ और निर्देश

अनुभव पुरस्कार योजना 2024 के अनुसार, प्रविष्टि दाखिल करने की अंतिम तिथि 31 मार्च, 2024 है। इसके लिए, सेवानिवृत्त कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को एक विशिष्ट समय सीमा में अपने अनुभवों को प्रस्तुत करना होगा। वर्ष 2016 से 2023 तक कुल 54 अनुभव पुरस्कार प्रदान किए गए हैं, जो सेरागिनी की तरह इस योजना की सफलता की कहानी हैं।

पुरस्कार और प्रमाणपत्रों की विशेषता

योजना के अनुसार, 31 जुलाई, 2023 से 31 मार्च, 2024 तक प्रकाशित सभी अनुभव लेखों पर 05 अनुभव पुरस्कारों और 10 निर्णायक समिति के प्रमाणपत्रों के लिए विचार किया जाएगा। इससे साफ है कि सरकार ने अपने सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों को प्रोत्साहित करने के लिए एक उत्कृष्ट पहल की है जो सामाजिक और पेंशन संरक्षण के क्षेत्र में योजनाएं बदल सकती हैं।

ये भी पढ़ें: Cleanliness Survey: NDMC ने स्वच्छता सर्वेक्षण में देश के सबसे स्वच्छ शहर का 7वां स्थान हासिल किया

आउटरीच अभियान

पेंशन एवं पेंशनभोगी कल्याण विभाग ने इस योजना के तहत एक आउटरीच अभियान का आयोजन किया है जिसका उद्देश्य सभी पेंशनभोगियों से उनके अनुभवों को साझा करने के लिए प्रेरित करना है। इसके लिए, मंत्रालयों/विभागों और सीएपीएफ के नोडल अधिकारियों के साथ कई बैठकें आयोजित की गई हैं ताकि अधिक से अधिक पेंशनभोगियों को इस योजना में भागीदार बनाया जा सके।

विजेता का सम्मान

अनुभव पुरस्कार के विजेताओं ने अपने अनुभवों को राष्ट्रीय मंच पर साझा करने के लिए एक वेबिनार श्रृंखला का आयोजन किया गया है। इसके माध्यम से वे अपनी कहानियां सुनाते हैं जो सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक स्तर पर समृद्धि लाने में कैसे सक्रिय रूप से योजनाओं में भागीदारी कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: IEC Mobile Van: सूचना, शिक्षा, और संचार (IEC) क्षेत्र में नए मील का पत्थर, आईईसी मोबाइल वैन का शुभारंभ

समाप्ति से पहले सर्कुलेशन

अनुभव पुरस्कार योजना 2024 के अंतर्गत दाखिल करने की आखिरी तिथि 31 मार्च, 2024 है। इससे पहले, सभी सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे इस सुनहरे अवसर का उपयोग करके अपने अनुभवों को साझा करते हैं और सरकार को उनके योगदान की महत्वपूर्णता समझाते हैं।

इस महत्वपूर्ण योजना के तहत, सरकार ने सामाजिक और आर्थिक स्तर पर सुधारों में सहयोग करने के लिए सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों को एक मंच प्रदान किया है ताकि वे अपने अनुभवों के माध्यम से एक नये भारत की ऊँचाइयों को छू सकें।

सामान्य प्रश्न (FAQs) अनुभव पुरस्कार योजना 2024  के बारे में

  1. प्रश्न: अनुभव पुरस्कार योजना क्या है?

    उत्तर: अनुभव पुरस्कार योजना, 2024 सरकार की एक पहल है जिसका उद्देश्य सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को साझा करने के लिए एक मंच प्रदान करना है ताकि उनके अनुभव से सुशासन और प्रशासनिक सुधारों में सहायता की जा सके।

  2. प्रश्न: अनुभव पुरस्कार योजना में कौन-कौन से लोग भाग ले सकते हैं?

    उत्तर: सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को योजना में भाग लेने का अवसर है। वे सेवानिवृत्ति से 8 महीने पहले और सेवानिवृत्ति के 1 वर्ष बाद तक अपने अनुभवों को साझा कर सकते हैं।

  3. प्रश्न: अनुभव पुरस्कार की विशेषता क्या है?

    उत्तर: योजना के तहत, प्रस्तुत किए गए अनुभव लेखों पर 05 अनुभव पुरस्कारों और 10 निर्णायक समिति के प्रमाणपत्रों के लिए विचार किया जाएगा।

  4. प्रश्न: अनुभव पुरस्कार योजना कार्यक्रम किस तारीख तक चलेगा?

    उत्तर: अनुभव पुरस्कार योजना 2024 के तहत प्रविष्टि दाखिल करने की अंतिम तिथि 31 मार्च, 2024 है।

  5. प्रश्न: अनुभव पुरस्कार योजना में भाग लेने के बाद क्या होगा?

    उत्तर: चयनित अनुभव लेखों को विभिन्न पुरस्कारों और प्रमाणपत्रों के लिए चुना जाएगा, जिससे सरकार सेवानिवृत्त हुए कर्मचारियों को सम्मानित करेगी।

  6. प्रश्न: आउटरीच अभियान क्या है?

    उत्तर: पेंशन एवं पेंशनभोगी कल्याण विभाग ने आउटरीच अभियान का आयोजन किया है जिसका उद्देश्य है सभी पेंशनभोगियों को इस योजना में भागीदार बनाना।

  7. प्रश्न: अनुभव पुरस्कार के विजेताओं का सम्मान कैसे होगा?

    उत्तर: विजेता को एक वेबिनार श्रृंखला के अंतर्गत एक राष्ट्रीय मंच पर अपने अनुभव साझा करने का मौका मिलेगा, जिससे वे अपनी कहानियां समृद्धि और सामाजिक परिवर्तन की दिशा में साझा कर सकते हैं।

Please follow and like us:
error700
fb-share-icon5001
Tweet 20
fb-share-icon20
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
स्पेशिलिस्ट ऑफिसर के 31 पदों पर नाबार्ड ने निकाली भर्ती उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय ने 535 पदों पर भर्ती निकाली टीजीटी और पीजीटी के 1613 पदों पर भर्ती Indian Navy में 254 ऑफिसर पदों पर भर्ती निकली भर्ती NTPC में 130 पदों पर
Advantages of overseas domestic helper.